Breaking News

डीएमके ने भारतीय वैज्ञानिकों का किया अपमान, स्टालिन पर पीएम मोदी का बड़ा अटैक

@शब्द दूत ब्यूरो (28 फरवरी 2024)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु के तिरुनेलवेली में डीएमके पर बड़ा निशाना साधा है और इसरो के वैज्ञानिकों का अपमान करने का आरोप लगाया है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि डीएमके ऐसी पार्टी है जो कोई काम नहीं करती बल्कि झूठा श्रेय लेने के लिए आगे रहती है. उन्होंने कहा कि इस पार्टी ने हमारी योजनाओं पर अपना स्टीकर लगाकर जनता के बीच अपना झूठा प्रचार करने का काम किया है. प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि डीएमके ने तमिलनाडु में इसरो लॉन्च पैड का श्रेय लेने के लिए चीन के स्टिकर चिपकाकर भारत के वैज्ञानिकों का अपमान किया है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि डीएमके ऐसी पार्टी है, जिसके नेता अंतरिक्ष में भारत की प्रगति को सहन करने के लिए तैयार नहीं हैं. वे अंतरिक्ष में भारत की प्रगति देखना नहीं चाहते. उन्होंने प्रदेश की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि आप जो टैक्स देते हैं, वे उसे इस तरह के झूठे विज्ञापनों पर खर्च कर देते हैं. प्रधानमंत्री ने कहा कि डीएमके के लोग भारत की अंतरिक्ष सफलता को दुनिया के सामने साझा नहीं करना चाहते. इसी के साथ उन्होंने जनता से कहा कि अब समय आ गया है कि डीएमके को इसकी सजा दी जानी चाहिए.

चीन को इसरो का क्रेडिट करने का आरोप

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ये बहुत ही अफसोस की बात है कि डीएमके सरकार ने चीन को इसरो का क्रेडिट दे दिया है, ये देश की जनता, तमिलनाडु की जनता के साथ धोखा है. प्रधानमंत्री मोदी तमिलनाडु के तिरुनेलवेली में एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. उन्होने कहा कि डीएमके सरकार ने इसरो में चीन का फ्लैग लगाकर देश के साथ विश्वास के साध धोखा किया है. ये कदम हमारे वैज्ञानिकों का अपमान है.

अपने इस दौरे में प्रधानमंत्री मोदी ने थूथुकुडी में स्वदेशी हाइड्रोजन ईंधन वाले जलमार्गीय जहाज को हरी झंडी दिखाई. इस दौरान उन्होंने यहां करीब 17,000 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का शिलान्यास किया.

Check Also

बजट का हलुवा और हलुए का बजट@राकेश अचल

🔊 Listen to this भारत अनोखा देश है। यहां सब कुछ अनोखा होता है ,जो …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-