Breaking News

काशीपुर :ब्लाइंड मर्डर का खुलासा, पेंटर की हत्या की पूरी कहानी आरोपी की जुबानी

@शब्द दूत ब्यूरो (5 अगस्त 2021)

काशीपुर । पुलिस ने पेंटर की हत्या का खुलासा करते हुए उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया। हत्या की वजह मृतक द्वारा हत्याभियुक्त को नशे में चिढ़ाना बन गई।

बीते माह 28 जुलाई को  ढेला नदी के पास नहर के किनारे पर्वतीय कालोनी में एक अज्ञात शव मिला जिसकी शिनाख्त. 24 वर्षीय मोनू उर्फ मोनिस पुत्र मौ मुनाजिर के रूप में हुई थी। मृतक के भाई जावेद निवासी सरवरखेडा ने कुंडा थाने में रिपोर्ट दर्ज करायी थी।

एस पी प्रमोद कुमार ने आज यहाँ कोतवाली में इस हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि कि मृतक मोनिस और पकडे गये अभियुक्त मुकुल भगत पुत्र रमेश भगत मूल निवासी ग्राम खनौलिया थाना भिकियासैंण जिला अल्मोड़ा हाल निवासी ग्राम गंगापुर थाना कुंडा ऊधमसिंह नगर तथा ब्रह्मप पुत्र स्व हरीश चंद्र निवासी ग्राम फरीदनगर थाना ठाकुरद्वारा जिन्हें पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर रिंगौडे वाले बाबा की मजार गर्जिया रोड रामनगर से गिरफ्तार किया।

एसपी प्रमोद कुमार ने बताया कि अभियुक्त मुकुल भगत ने पूछताछ में जानकारी दी कि उसकी मंडी गेट के पास चाय की दुकान थी जहाँ मोनिस आया करता था। वह नशे में उसे परेशान करता था और चिढ़ाता था। इस वजह से वह मोनू उर्फ मोनिस से नफरत करता था। इसलिए उसने मन ही मन मोनिस को खत्म करने की ठान ली। उनका एक और मित्र ब्रह्मपाल था। तीनों साथ बैठकर शराब पीते थे।

27 जुलाई को मोनिस उसे ढेला पुल पर मिला उस वक्त ब्रह्मपाल भी मुकुल के साथ था। तीनों ने बड़ी सब्जी मंडी के पीछे शराब पी और उसके बाद वह पैदल ही ढेला नदी पार कर बैलजुडी से होते हुए गढडा कालोनी आये वहाँ फिर उन लोगों ने शराब पी। शराब के नशे में मुकुल को मोनिस की चिढ़ाने वाली बात याद आ गयी। मुकुल ने सोच लिया कि आज इसे मारना है। उसने ब्रह्मपाल को भी इसके लिए तैयार कर लिया। तीनों ने फिर शराब पी और मोनिस को ज्यादा शराब पिलाई। फिर जब वह नशे में हो गया तो योजना के तहत मोनिस को ढेला नहर पर्वतीय कालोनी की तरफ ले गये। वहाँ पहुँच कर दोनों ने गमछे से मोनिस का गला घोंट दिया जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। हत्या के बाद शव को नहर में छिपाकर वहाँ से चले गये।

एस पी प्रमोद कुमार ने बताया कि हत्या में प्रयुक्त गमछा भी बरामद कर लिया है। हत्या का खुलासा करने वाली टीम में प्रमारी निरीक्षक जी बी जोशी, वरिष्ठ उप निरीक्षक देवेन्द्र गौरव, उप निरीक्षक रविन्द्र बिष्ट तथा कांस्टेबल दीवान बोरा, महेंद्र डंगवाल प्रेम कन्याल एस ओ जी गिरीश कांडपाल दीपक कठैत सुरेंद्र सिंह व महिला आरक्षी प्रियंका कम्बोज शामिल थे। 

 

Check Also

मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने किया श्री केदारनाथ धाम का निरीक्षण

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (22 अप्रैल 2024) रुद्रप्रयाग: उत्तराखंड की मुख्य सचिव …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-