Breaking News

G-7 शिखर सम्मेलन से पहले ससंद में जनप्रतिनिधियों के बीच चले घूंसे, देखिए वीडियो

@शब्द दूत ब्यूरो (14 जून 2024)

जी 7 सम्मिट शुरू होने से पहले इटली की ससंद में एक शर्मनाक नजारा देखने को मिला। ऐसे समय में जब विभिन्न देशों के राष्ट्राध्यक्ष वहां पहुंच रहे हैं उससे पहले हुई इस घटना से पूरा देश सकते में हैं।

जब इतालवी सांसदों को संसद में हाथापाई करते और एक-दूसरे पर मुक्का बरसाते हुए देखा गया। दरअसल इस विवाद के पीछे  दक्षिणपंथी सरकार द्वारा क्षेत्रों को अधिक स्वायत्तता प्रदान करने की योजना को लेकर शुरू हुआ।  यह हंगामा 12 जून की शाम को  जी7 शिखर सम्मेलन से एक दिन पहले हुआ। गौरतलब है कि इटली 13-15 जून के बीच जी-7 सम्मेलन की मेजबानी कर रहा है।

यह झगड़ा तब शुरू हुआ जब फाइव स्टार मूवमेंट के डिप्टी लियोनार्डो डोनो, स्वायत्तता समर्थक नॉर्दर्न लीग के क्षेत्रीय मामलों के मंत्री रॉबर्टो काल्डेरोली की ओर बढ़े। लियोनार्डो ने उनके गले में इतालवी झंडा बांधने की कोशिश की। डोनो के इस स्टंट का मकसद रोम की तरफ से उन क्षेत्रों को अधिक स्वायत्तता देने की योजना की निंदा करना था जो इसे चाहते थे। कई आलोचकों का तर्क है कि यह कदम इटली की एकता को कमजोर कर सकता है।

डोना जब कैलडरोली की तरफ बढ़े तो चंद सेकेंड्स में ही उसके साथी लीग के प्रतिनिधि अपनी बेंचों से उठकर डोनो पर हमला करने वहां आ पहुंचे। देखते ही देखते लड़ाई में करीब 20 लोग शामिल हो गए। डोनो हाथापाई में घायल हो गया और उसे व्हीलचेयर पर अस्पताल जाना पड़ा।

इस पूरे हंगामे का वीडियो सोशल मीडिया पर वायलर हो गया है और इसे बार-बार शेयर किया जा रहा है।

इस विवाद ने राजनीतिक नेताओं की प्रतिक्रियाओं की बाढ़ ला दी। लीग और प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी की पार्टी ब्रदर्स ऑफ इटली के सांसदों ने डोनो पर घटना को भड़काने का आरोप लगाय। उन्होंने डोनो की चोटों लगने के दावे को भी झूठा करार दिया है।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

बरेली में 23 हिंदू युवाओं का निकाह कराने की मौलाना तौकीर रजा ने की घोषणा, एस एस पी बोले बगैर अनुमति के नहीं होगा कार्यक्रम, जांच जारी, देखिए वीडियो

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (16 जुलाई 2024) बरेली। मौलाना तौकीर रजा खां …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-