Breaking News

गर्लफ्रेंड कुत्तों की तरह करती है व्यवहार, फिर भी मुझे प्यार है, सामने आई एक अनोखी लव स्टोरी

@शब्द दूत ब्यूरो (28 फरवरी 2024)

Love don’t judge इसका परफेक्ट उदाहरण इस कपल ने सेट किया है। इस शख्स का कहना है कि उसकी गर्लफ्रेंड कुत्तों की तरह व्यवहार करना पसंद करती है। वह घर ही नहीं ब्लकि बाहर भी इसी तरह से चलती है। अमेरिका में रहने वाली 21 वर्षीय जेना ने बचपन से ही ‘पपी प्ले’ नाम का गेम खेलना शुरू कर दिया था और वो इसे आज भी खेलती है। उन्होंने इसका खुलासा लव कांट जज नाम के यूट्यूब चैनल पर किया।  

मिरर यूके की रिपोर्ट के अनुसार, जेना ने कहा, ‘मैं अपनी मां से कहा करती थी कि वो मेरे साथ मिलकर कुत्तों संग खेलें, ताकि मैं भी कुत्तों की तरह महसूस कर पाऊं। मेरे माता-पिता हमेशा मुझे कहते थे कि मैं इस सबको करना कब बंद करूंगी लेकिन मैं कभी ऐसा नहीं कर पाई।’

जेना अपने 30 साल के बॉयफ्रेंड लोरेंजो के साथ रहती हैं। लारेंजो का कहना है कि उन्हें अपनी गर्लफ्रेंड से काफी प्यार है, चाहे वह कैसा भी व्यवहार करती हैं। हालांकि इस लोगों ने उनकी आलोचना भी की है।

लोरेंजो कहते हैं, ‘जब हम लोगों के बीच होते हैं, तब कई बार शर्मिंदगी महसूस होती है। अगर एक लड़की कुत्ते की तरह व्यवहार करती है, तो क्या वो अजीब चीज है? मुझे ये अजीब नहीं लगता। मुझे उस पर ध्यान देना पसंद है, जब भी वो चाहती है। उसे सुरक्षित महसूस कराना और सबसे जरूरी उसे खुश देखना।

जेना ने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा, ‘जब मैंने पहली बार लोरेंजो को इस बारे में बताया, तो वो बिल्कुल नहीं शरमाया। उसे ये ठीक लगा। फिर मुझे क्या करने की जरूरत थी। ‘ हालांकि सोशल मीडिया पर जेना को खूब ट्रोल किया जाता है।

इस पर जेना कहती हैं, ‘मैं जानती हूं कि मैं किसी को ठेस नहीं पहुंचा रही। मैं मुसीबत में नहीं हूं। मैं बस इंटरनेट पर अपने तरीके की जिंदगी दिखा रही हूं और जिस पर लोग अपनी राय दे रहे हैं। कुत्तों के पार्क में जाना मेरी पसंदीदा चीजों में से एक है। मुझे लगता है कि लोरेंजो सबसे अच्छा मालिक है। वो मेरी देखभाल करता है। मैं शेल्टर में मौजूद खुद को सबसे खुशनसीब पेट महसूस करती हूं।’

Check Also

पीएम मोदी की जी 7 समिट में पोप फ्रांसिस से मुलाकात, सराहना करते हुए भारत आने का न्यौता दिया, भारतीय ईसाई समुदाय में खुशी

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (15 जून 2024) इटली। जी 7 समिट में …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-