Breaking News

अयोध्या के राम मंदिर में बड़ी तकनीकी खामी आई सामने , मुख्य पुजारी ने दी जानकारी क्या है समस्यायें?

@शब्द दूत ब्यूरो (22 जून 2024)

अयोध्या । राम मंदिर के पुजारी को अनेक समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। इसका कारण है मंदिर निर्माण में एक बड़ी तकनीकी कमी। दरअसल रामलला की मूर्ति को चढ़ाने वाले जल की निकासी की कोई व्यवस्था नहीं है जिससे गर्भगृह में काफी मात्रा में जल इकट्ठा हो जाता है। मुख्य पुजारी सत्येन्द्र दास कहते हैं कि जल निकासी को लेकर तकनीकी रूप से कोई इंतजाम न किये जाने से यहां काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

पुजारी के मुताबिक गर्भगृह में रामलला को स्नान अभिषेक कराने के बाद जो पानी फर्श पर गिरता है, उसकी निकासी की व्यवस्था नहीं की गई। इतना ही नहीं, राम मंदिर के मुख्य पुजारी ने इस पर कई सारे सवाल भी खड़े किए हैं। राम मंदिर के मुख्य पुजारी का कहना है कि जब प्रभु राम का श्रृंगार होता है उसके पहले प्रतिदिन उन्हें स्नान कराया जाता है। जिसमें सरयू जल के अलावा उन्हें मधु पर्क से भी स्नान कराया जाता है। मधु पर्क में दूध, दही, घी, शहद मिला होता है। इससे स्नान करने के बाद उन्हें फिर सरयू जल से नहलाया जाता है। स्नान के बाद जो पानी फर्श पर गिरता है उसे कहां ले जाया जाए यह बड़ा सवाल है। क्योंकि गर्भगृह में पानी निकालने का साधन नहीं है। मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने कहा कि गर्भगृह तो अच्छा बना है। लेकिन, भौतिक सुविधा नहीं है। इतना ही नहीं चिलचिलाती धूप और गर्मी में प्रभु राम कूलर के सहारे हैं। एसी भी खराब पड़ा है।

श्री राम जन्मभूमि मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने बताया कि प्रभु राम की सुबह 4:00 से प्रभु राम की आराधना शुरू हो जाती है, जिसमें सबसे पहले प्रभु राम को नींद से जगाया जाता है। सरयू जल से स्नान कराया जाता है. इसके बाद नवीन वस्त्र धारण कराए जाते हैं। फिर मंगला आरती के बाद श्रद्धालुओं के लिए दर्शन शुरू होते हैं। आचार्य सत्येंद्र दास ने बताया कि गर्भ गृह में पुजारी को कई तरह की समस्या भी आ रही है।

गर्भ गृह का निर्माण करने से पहले सोचना चाहिए था कि गर्मी ठंडी और बरसात में पानी निकालने का रास्ता नहीं है। अयोध्या के और भी मंदिर में गर्भगृह हैं, उसको देखना चाहिए था। उसके जल का निकास कैसा है और कैसे उन मंदिरों की व्यवस्था है? एसी लगना है मंदिर में कैसे लगेगी। लेकिन, निर्माण कार्य में लगे लोगों ने यह बात नहीं सोची।

हालांकि गर्भ गृह का निर्माण अच्छा किया गया है। लेकिन भौतिक सुविधा नहीं है। मंदिर में AC भी लगाया गया है, लेकिन वह चल नहीं रहा है। यहां कितनी समस्या हो रही है, ये कोई सोचता। गर्मी में कूलर के सहारे प्रभु राम की सेवा हो रही है।

उधर राम मंदिर के कार्यालय प्रभारी प्रकाश गुप्ता ने बताया कि गर्भ गृह का निर्माण बहुत अच्छे से किया गया है। लेकिन, कुछ कमियां रही तो उसको जल्द ही दूर किया जाएगा।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

देहरादून में रेडियोधर्मी पदार्थ के बक्सों समेत पांच गिरफ्तार, जानिए आरोपियों के नाम

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (13 जुलाई 2024) देहरादून । पुलिस ने राजपुर …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-