Breaking News

महाराष्ट्र में फिर हुआ बुलडोजर एक्शन, हाईवे पर बने अवैध मजार को किया ध्वस्त

@शब्द दूत ब्यूरो (02 मार्च, 2024)

महाराष्ट्र के मीरा रोड के बाद अब नासिक मनमाड चाँदवाड़ हाईवे पर बने अवैध मजार पर बुलडोजर एक्शन हुआ है. मजार के नाम पर लैंड जिहाद का आरोप था. भाजपा विधायक नितेश राणे ने विधानसभा में इसका मुद्दा उठाया था. अब प्रशासन ने बुलडोजर लगाकर मजार को ध्वस्त कर दिया है. इस कार्रवाई के बाद हाईवे पर सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए गए है. बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. BJP के विधायक नेता और प्रवक्ता नीतेश राणे ने नासिक चाँदवाड़ नेशनल हाईवे पर बने अवैध मज़ार की तस्वीरें विधानभवन परिसर में दिखाई थी.

गुरुवार को क्या कहा था नितेश राणे ने

नितेश राणे ने कहा कि राष्ट्रीय महामार्ग पर इस तरह से अवैध मजार बनाने के लिए ये कोई पाकिस्तान नहीं है ये हिंदुस्तान है और यहाँ ये बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. नितेश राणे ने कहा कि महाराष्ट्र और देश भर में जितने भी नेशनल हाईवे बनाए जा रहे हैं या बन गए उसमें कई सारे हिन्दू मंदिर थे. हिन्दुओं ने शांतिपूर्ण तरीक़े से उन मंदिरों को दूसरी जगह शिफ़्ट किया लेकिन कुछ जिहादी प्रवृत्ति के लोग अब नेशनल हाईवे पर मज़ार बना रहे हैं. यह सब तुष्टिकरण की राजनीति के लिए किया जा रहा है.

”मज़ार नहीं हटाई तो हनुमान मंदिर बनेगा”

नीतेश राणे ने कहा कि सालुंखे के नाम के एक हाईवे प्राधिकरण के अधिकारी ने इस मज़ार बनाने के लिए मदद की. मालेगांव से एक मौलवी को बुलाया और वहाँ मज़ार स्थापित की. अगर यह मज़ार वहाँ से हटाईं नहीं गई तो वहाँ बगल में ही हनुमान का मंदिर बनाया जाएगा. नितेश राणे ने कहा कि नेशनल हाइवे पर अब मज़ार बन गई आगे वहाँ लोग नमाज़ पढ़ेंगे, कई लोग रोज़ इकट्ठा होंगे राष्ट्रीय महामार्ग में सुरक्षा पर सवाल उठेगा. ऐसे में नेशनल हाईवे प्राधिकरण इस अवैध निर्माण को तुरंत हटाए नहीं तो वहाँ हिंदु लोग भी आयोध्या से साधु संतों को बुलाकर मंदिर का निर्माण करेंगे और पूजा अर्चना करेंगे. नीतेश राणे ने साथ ही ये भी कहा कि इस बारे में उन्होने संबंधित प्राधिकरण को शिकायत की है साथ ही वह सड़क निर्माण मंत्री नितिन गडकरी से भी मुलाक़ात करेंगे.

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

कांग्रेस प्रत्याशी की रैली में क्या सचमुच आए शाहरुख खान? वीडियो वायरल

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (19 अप्रैल 2024) दुनिया में लोकतंत्र का सबसे …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-