Breaking News

काशीपुर:डॉ जेपी वशिष्ठ को भावभीनी श्रद्धांजलि,लोगों ने उनके समाजसेवी जीवन पर डाला प्रकाश

@शब्द दूत ब्यूरो (15 जनवरी 2024)

काशीपुर। नगर व क्षेत्र में इलैक्ट्रो होम्योपैथी के विशेषज्ञ डा. जेपी वशिष्ठ को उनके तेरहवीं संस्कार मैं हुई श्रद्धांजलि सभा में नगर व क्षेत्र के अनेक गणमान्य लोगों के साथ-साथ इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा के दर्जनों डॉक्टरों ने भी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

उधर मेटी दिवस के अवसर पर डॉक्टर सुरेश राजपूत के नेतृत्व में रामनगर में आयोजित कार्यक्रम में भी उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के विभिन्न जनपदों से आए अनेक चिकित्सकों ने डॉ जेपी वशिष्ठ को श्रद्धांजलि व्यक्त कर प्रभु से उनकी आत्मा को शांति प्रदान करने की प्रार्थना की। द्रोणा सागर पर डॉ आर के बिश्नोई और डॉक्टर सुरेश राजपूत के प्रयासों के चलते हुई एक अन्य श्रद्धांजलि सभा में भी अनेक गणमान्य लोगों और चिकित्सकों ने डॉक्टर वशिष्ठ को श्रद्धा सुमन अर्पित किए। क्षेत्र में इलेक्ट्रो होम्योपैथी को पहचान दिलाने एवं जनता को इस पैथी के प्रति जागरूक करने में डॉक्टर आर के बिश्नोई एवं डॉक्टर सुरेश राजपूत ने डॉ जेपी वशिष्ठ के साथ कंधे से कंधा मिलाकर मुहिम को आगे बढ़ाने मैं मैं दिन रात एक कर दिया।

बता दें कि बीमारी के चलते डॉ जेपी वशिष्ठ का बीती 2 जनवरी को निधन हो गया था।  जिनका बीते रोज मानपुर रोड पर स्थित एक बैंक्वेट हॉल में तेरहवीं संस्कार संपन्न हो गया। हिन्दी विकास कल्याण समिति के संस्थापक78 वर्षीय डा. वशिष्ठ विभिन्न सामाजिक संगठनों से जुड़े थे और इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सकों का नेतृत्व करते थे। वें बहुत ही मृदुभाषी व्यक्तित्व के धनी थे। उनके निधन से न सिर्फ चिकित्सा क्षेत्र को काफी हानि हुई बल्कि काशीपुर क्षेत्र ने एक अच्छा समाज सेवक खो दिया है। मूलत: कानपुर निवासी डा. वशिष्ठ गरीबों को मुफ्त दवा देने के चलते क्षेत्र में अति लोकप्रिय थे।

उनके तेरहवीं संस्कार में पूर्व मेयर श्रीमती उषा चौधरी , सनातन भारत दल के उत्तराखंड के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ आर के महाजन, आदेश शर्मा, निवास शर्मा ,अटल भारद्वाज, मनोज गौतम ,ओम राम प्रजापति, देहरादून से आए परशुराम चतुर्वेदी ,डॉ आर बी लाल सागर, नंदकिशोर सागर ,पूर्व पार्षद मोहम्मद सादिक हुसैन ,कांग्रेस नेता एवं हिंदी विकास कल्याण समिति के संरक्षक शफीक अहमद अंसारी, हिंदी विकास कल्याण समिति के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ अधिवक्ता शैलेंद्र कुमार मिश्रा ,भाजपा नेता दीपक बाली, डा. सतीश अरोरा, हिंदी विकास कल्याण समिति के संस्थापकों में ही रहे होम्योपैथी अनुसंधान केंद्र के एमडी डॉ रजनीश कुमार शर्मा, हिंदी विकास कल्याण समिति के पूर्व अध्यक्ष डॉक्टर चंद्रपाल सिंह चौहान ,गोविंद राम, डॉक्टर गिरीश चंद तिवारी ,आनंदपाल सिंह चौहान, आनंद प्रधान एडवोकेट ,श्री गीता उच्चतर माध्यमिक स्कूल के पूर्व प्रधानाचार्य रामवतार शर्मा, पूर्व पार्षद कृष्ण अवतार श्रीमाली, डॉक्टर आर के बिश्नोई , डॉ ज्ञान सिंह सैनी, डॉ आर पी सैनी, डॉ जेड आर रहमान, डॉ नासिर हुसैन, डॉक्टर नावेद जाफरी, डॉ अनिल शर्मा, डॉ सुरेश राजपूत ,डॉ शमशाद अली, डॉ वशिष्ठ के बड़े भाई इंजीनियर ओमप्रकाश वशिष्ठ ,डॉक्टर शमसुद्दीन हक , दीपक शर्मा, अनुज शर्मा, पत्रकार सुरेश कुमार शर्मा व विनोद भगत आदि ने शोक संवेदना व्यक्त की और डॉ जेपी वशिष्ठ के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उन्हें एक सच्चा समाज सेवक बताया और उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि व्यक्त की ।श्रद्धांजलि सभा का सफल संचालन हिंद मजदूर सभा के प्रदेश अध्यक्ष सहित विभिन्न संगठनों से जुड़े वेद प्रकाश विद्यार्थी भैया ने किया। हिंदी विकास कल्याण समिति, हिंद मजदूर सभा, परशुराम चतुर्वेदी विद्यालय देहरादून, सनातन भारत ,वैदिक ब्राह्मण सभा देहरादून,सहित विभिन्न संगठनों ने शोक प्रस्ताव दिए।

डॉ वशिष्ठ समाज सेवा के विभिन्न कार्यों में व्यस्त रहते थे और विभिन्न शहरों कस्बो व ग्रामों में निशुल्क कैंप के साथ-साथ चैती मेले में भी पिछले 30 वर्षों से निरंतर निशुल्क चिकित्सा कैंप लगाते थे। आर के फ्लोर मिल के सामने अपनी कॉलोनी में जब उन्होंने देखा कि कोई मंदिर नहीं है तो उन्होंने मंदिर निर्माण एवं श्री राम दरबार स्थापित कराने में भी बहुत योगदान दिया था। श्रद्धांजलि सभा में आए सभी सामाजिक संगठनों चिकित्सकों शुभचिंतकों और रिश्तेदारों का डॉक्टर वशिष्ठ के पुत्र डॉक्टर गौरव वशिष्ठ ने हृदय से आभार जताया और उम्मीद जताई कि उनके पिताजी की तरह उन्हें भी हमेशा सभी का स्नेह सहयोग और आशीर्वाद मिलता रहेगा।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

दुखद :जम्मू-कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ में घायल चार जवान शहीद, अस्पताल में उपचार के दौरान आज तड़के हुआ निधन

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (16 जुलाई 2024) एक दुखद खबर जम्मू-कश्मीर से …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-