Breaking News

Google और Apple के बीच तगड़ा मुकाबला, फिर क्यों एपल की मदद को तैयार है गूगल?

@शब्द दूत ब्यूरो (29 मार्च 2024)

गूगल और एपल एक दूसरे के जानी दुश्मन हैं ये बात तो सभी लोग जानते हैं, लेकिन इन दोनों की दुश्मनी की असली वजह बहुत कम लोगों को पता है. इस सबके बीच खबर आ रही है कि गूगल जानी दुश्मनी को भूलकर एपल की मदद करने के लिए तैयार हो गया है. गूगल अपने पिक्सल फोन और दूसरी कंपनियों के फोन के लिए एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम बनाता है, जबकि एपल अपने आईफोन के लिए IOS ऑपरेटिंग सिस्टम बनाता है. इसी वजह से गूगल और एपल एक दूसरे के जानी दुश्मन हैं और अब इन दोनों के बीच एक तीसरे खिलाड़़ी की वजह से दुश्मनी दोस्ती में बदलना शुरू हो गई है.

एपल ने बीते साल सितंबर में आईफोन 15 सीरीज लॉन्च की थी, जिसमें कंपनी ने कई बेहतरीन फीचर्स के साथ यूएसबी टाइप सी पोर्ट, डाइनामिक आईलैंड सहित कई दूसरे फीचर्स दिए थे, लेकिन गूगल ने एक कदम आगे बढ़ते हुए पिक्सल 8 में AI का सपोर्ट दिया था. वहीं मार्केट में गूगल और एपल को टक्कर देने वाली तीसरी कंपनी ने भी अपने नए प्रीमियम फोन में AI का सपोर्ट दिया था. ऐसे में एपल को समझ आने लगा है कि अगर उसने आईफोन 16 में AI फीचर नहीं दिया तो उसे यूजर्स भटकना शुरू हो जाएंगे.

गूगल-एपल को टक्कर देने वाला तीसरा खिलाड़ी कौन?

गूगल जेमिनी और एपल को टक्कर देने वाला मार्केट का तीसरा धुरंधर कोई और नहीं सैमसंग है, जिसने गैलेक्सी S24 अल्ट्रा फोन में कई AI फीचर दिए हैं. इसमें आपको AI स्टीरियो डेप्थ मैप, AI ऑटो फ्रेम, AI सीन ऑप्टिमाइजर, कॉल में लाइव ट्रांसलेट, गैलरी में AI एडिटिंग और AI वॉलपेपर जैसे फीचर्स दिए थे. इन सभी फीचर्स के मुकाबले में गूगल और एपल कहीं आसपास नहीं टिकते. जिस वजह से अब गूगल और एपल के बीच की जानी दुश्मनी दोस्ती की दहलीज तक पहुंच गई है.

गूगल से चाहिए एपल को ये

एपल आईफोन 16 के लिए IOS 18 डेवलप कर रहा है. जिसमें एपल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस फीचर देना चाहता है. ब्लूमबर्ग के मार्क गुरमैन की रिपोर्ट के अनुसार एपल और गूगल के बीज जेमिनी AI को लेकर बातचीत हुई है, जिसमें आईफोन 16 में यूजर्स को जेमिनी चैटबॉट मिलेगा. इस AI फीचर में जेनरेटिक इमेज और सिंगल टेक्स्ट प्रॉम्ट जैसे फीचर्स मिलेंगे.

गूगल को एपल के साथ डील में क्या फायदा?

गूगल के जेमिनी AI का सीधा मुकाबला OpenAI के चैटजीपीटी के साथ है. इस वजह से गूगल एपल के साथ पार्टनरशिप करके चैटजीपी को पछाड़ना चाहता है. दरअसल गूगल जेमिनी AI में एपल के कुछ फीचर्स भी एडऑन करना चाहता है. वहीं सैमसंग पहले से ही अपने गैलेक्सी S24 अल्ट्रा में कई बेहतरीन आटिफिशियल इंटेलीजेंस के फीचर दे चुका है.

सैमसंग गैलेक्सी S24 अल्ट्रा में AI फीचर

  • नया 5x सेंसर और बड़े पिक्सेल: कम रोशनी में भी शानदार तस्वीरें और वीडियो बनाने के लिए AI बेहतर लाइट टूल्स ऑपर करता है.
  • AI स्टीरियो डेप्थ मैप: पोर्ट्रेट मोड में डीप और रियल इफेक्ट बनाने में मदद करता है.
  • AI ऑटो फ्रेम: वीडियो रिकॉर्ड करते समय ऑटोमेटिक सब्जेक्ट को ट्रैक करता है और फ्रेम में रखता है.
  • AI सीन ऑप्टिमाइजर: शॉट के लिए बेस्ट सेटिंग्स सलेक्ट करने में आपकी मदद करता है, जिससे हर बार शानदार रिजल्ट मिलते हैं.
  • सर्कल टू सर्च: स्क्रीन के किसी भी कोने से इंस्टेंट सर्च के लिए एक स्वाइप जेस्चर का इस्तेमाल कर सकते हैं. यानी आपको वीडियो में ये फोटो में किसी मॉडल के कपड़े अच्छे लग रहे हैं तो आप उस पर सर्कल करके उन कपड़ों की डिटेल्स चेक कर सकते हैं.
  • कॉल में लाइव ट्रांसलेट: रियल टाइम में भाषाओं का ट्रांसलेशन करता है, जिससे विदेशी भाषाओं में कॉल करना आसान हो जाता है.
Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

यूजर्स के लिए झटका! अब नहीं शेयर कर पाएंगे डिज्नी का पासवर्ड

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (06 अप्रैल 2024) नेटफ्लिक्स के बाद, डिज्नी प्लस …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-