Breaking News

‘ओवैसी के गढ़’ में BJP ने महिला प्रत्याशी को उतारा, कौन हैं हैदराबाद में टक्कर देने वाली माधवी लता

@शब्द दूत ब्यूरो (03 मार्च 2024)

भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए 195 उम्मीदवारों की अपनी पहली लिस्ट कल शनिवार को जारी कर दी. इस लिस्ट में कई फिल्मी सितारों समेत अन्य क्षेत्रों की दिग्गज हस्तियों को भी मैदान में उतारने का ऐलान किया गया है. बीजेपी ने अपनी इस लिस्ट में हैदराबाद संसदीय सीट से असदुद्दीन ओवैसी के सामने एक महिला प्रत्याशी को उतारा है. ये दोनों नेता अपने क्षेत्र में खासे सक्रिय रहते हैं, ऐसे में यहां की चुनावी जंग पर सभी की नजर रहेगी.

चर्चित नेता और एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ बीजेपी ने मजबूत चेहरा उतार कर चुनाव को दिलचस्प बनाने की कोशिश की है. बीजेपी ने तेलंगाना की चर्चित हैदराबाद लोकसभा सीट पर कोम्पेला माधवी लता को टिकट दिया है. हैदराबाद सीट से असदुद्दीन ओवैसी सांसद हैं और पिछले 40 सालों से यहां पर वह या उनकी पार्टी लगातार जीतती आ रही है. उनको चुनौती देना किसी भी दल के लिए आसान नहीं रहा है.

1984 से ओवैसी परिवार की पकड़

हैदराबाद सीट पर साल 1984 से ही ओवैसी परिवार का दबदबा बना हुआ है. असदुद्दीन ओवैसी से पहले उनके पिता सुल्तान सलाउद्दीन ओवैसी साल 1984 में पहली बार इस सीट से बतौर निर्दलीय सांसद चुने गए थे. फिर वह एआईएमआईएम पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ते रहे और 2004 तक वह सांसद रहे. उन्होंने 1984, 1989, 1991, 1996, 1998 और 1999 में चुनाव में जीत हासिल की थी.

उनके बाद असदुद्दीन ओवैसी हैदराबाद सीट से चुनाव लड़ने लगे. असदुद्दीन पहली बार 2004 में पहली बार यहां से सांसद चुने गए. वह तब से यहां पर सांसद बने हुए हैं. ओवैसी 2004, 2009, 2014 और 2019 में हैदराबाद सीट से जीत हासिल करते आ रहे हैं. 40 साल से लगातार जीत की वजह से हैदराबाद सीट को ओवैसी का गढ़ माना जाता है.

कट्टर हिंदुत्व का चेहरा माधवी लता

ओवैसी के गढ़ में बीजेपी ने इस बार नए चेहरे को मौका दिया है. उन्होंने पहली बार महिला प्रत्याशी के रूप में माधवी लता को टिकट दिया है. माधवी यहां पर विरिंची हॉस्पिटल चलाती हैं और इसकी चेयरपर्सन भी हैं. वह हैदराबाद में कट्टर हिंदुत्व का चेहरा है. ओवैसी का भी अपना हॉस्पिटल है. माधवी सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव हैं. अस्पताल चलाने के साथ ही मालती भरतनाट्यम में भी पारंगत हैं.

माधवी लता हैदराबाद में सामाजिक कामों में भी खासी सक्रिय रहती है. वह लोपामुद्रा चैरिटेबल ट्रस्ट और लतामा फाउंडेशन में ट्रस्टी हैं. हेल्थकेयर और शिक्षा के क्षेत्र में भी लगातार काम कर रही हैं.

बीजेपी ने 2019 के चुनाव में हैदराबाद सीट से पहले डॉक्टर भगवंत राव को मैदान में उतारा था. उन्होंने ओवैसी को टक्कर दी, लेकिन 2,82,186 मतों के अंतर से ओवैसी मुकाबला जीत गए. ओवैसी को 517,471 वोट मिले तो राव के खाते में 2,35,285 वोट आए थे. यहां पर टीआरएस के प्रत्याशी को 63,239 वोट तो कांग्रेस के फिरोज खान को 49,944 वोट मिले थे.

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

डायनासोर की तरह विलुप्त हो जाएगी कांग्रेस, राजनाथ सिंह ने रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ से की तुलना

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (12 अप्रैल 2024) लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-