Breaking News

बर्फीले तूफान का कहर: सात करोड़ लोग हुए प्रभावित, कई जगह इमरजेंसी का ऐलान

बता दें कि बम साइक्लोन का प्रभाव बहुत तेज होता है। यह साइक्लोन तब बनता है, जब पृथ्वी की सतह के पास की हवा वायुमंडल में तेजी से ऊपर उठती है।

@नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (30 जनवरी, 2022)

पूर्वी संयुक्त राज्य अमेरिका में बर्फीले तूफान की वजह से जन-जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। तूफान की वजह से इस क्षेत्र के लगभग सात करोड़ लोगों को बिजली कटौती का सामना करना पड़ रहा है। परिवहन व्यवस्था पर भी बुरा असर पड़ा है।

इस तूफान का सबसे ज्यादा प्रभाव न्यूयॉर्क और बोस्टन जैसे शहरों में देखने को मिला। तूफान के असर को देखते हुए नेशनल वेदर सर्विस ने ‘बम साइक्लोन’ की पुष्टि की है। बता दें कि बम साइक्लोन का प्रभाव बहुत तेज होता है। यह साइक्लोन तब बनता है, जब पृथ्वी की सतह के पास की हवा वायुमंडल में तेजी से ऊपर उठती है।

मैसाचुसेट्स राज्य के कुछ हिस्सों में तीन फीट तक बर्फ गिरी है। लगभग 117,000 घरों की बिजली आपूर्ति बाधित हो गई है। तटीय क्षेत्रों में दिन के अंत तक एक फुट (30 सेंटीमीटर) से अधिक बर्फ गिरने की उम्मीद थी। न्यूयार्क, न्यू जर्सी और बोस्टन में तूफान को देखते हुए इमरजेंसी घाषित कर लोगों को घरों में ही रहने की हिदायत दी गई है। अमेरिका में तूफान के चलते 3,500 से अधिक उड़ानें रद्द कर दी गईं थीं।

Check Also

हमले के बाद भी इजराइल पर पलटवार क्यों नहीं कर रहा ईरान? विदेश मंत्री ने बता दिया

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (21 अप्रैल 2024) रूस-यूक्रेन, इजराइल-हमास के बाद दुनिया …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-