Breaking News

काशीपुर :प्रत्याशी घोषित होने के बाद स्थानीय कांग्रेस नेताओं की चुप्पी के मायने

@शब्द दूत ब्यूरो (23 जनवरी 2022)

काशीपुर । बड़े दिलचस्प मोड़ से शुरुआत हो रही है काशीपुर में चुनावी रण की। दोनों ही राष्ट्रीय दलों भाजपा और कांग्रेस के प्रत्याशियों पर लोगों की नजर थी। भाजपा का प्रत्याशी घोषित होने के बाद यहाँ मचे राजनीतिक तूफान के बीच अब कांग्रेस ने भी आधी रात में अपने प्रत्याशियों की जो सूची जारी की उसमें काशीपुर से पूर्व सासंद के सी सिंह बाबा के पुत्र नरेंद्र चंद्र सिंह को अपना प्रत्याशी घोषित कर दिया।

भाजपा से घोषित प्रत्याशी त्रिलोक सिंह चीमा के विरोध में कल तमाम भाजपा नेताओं के इस्तीफे ने काशीपुर की राजनीति में उबाल ला दिया। आज कांग्रेस के तमाम स्थानीय उन दावेदारों जो कि कई वर्ष से टिकट की आस में पार्टी के प्रति समर्पित भाव से लगे हुए थे, उन्हें दरकिनार कर पूर्व सांसद बाबा के पुत्र को कांग्रेस ने अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया।

आमतौर पर भाजपा से काशीपुर में ये उम्मीद नहीं की जाती थी कि टिकट वितरण पर इतना जबरदस्त आक्रोश हो सकता है। दरअसल अनुशासित और पार्टी के बड़े नेताओं के फैसले को शिरोधार्य करने वाले कार्यकर्ताओं की पार्टी होने का दावा भाजपा के नेता और कार्यकर्ता करते आये हैं लेकिन इस बार पार्टी के प्रति अनुशासन और बड़ नेताओं के फैसले के प्रति निष्ठा तार तार हो गई है।

अब बात करते हैं काशीपुर कांग्रेस की। यहाँ सक्रिय राजनीति से दूर नरेंद्र चंद्र सिंह को टिकट देकर कांग्रेस हाईकमान ने जीत के लिए दांव खेल दिया है। पूर्व सांसद के सी सिंह बाबा काशीपुर की राजनीति का जाना माना चेहरा है। लेकिन प्रत्याशी के रूप में नरेंद्र चंद्र सिंह क्या काशीपुर के मतदाताओं की भी पसंद बन पायेंगे यह चुनाव के बाद ही पता चल पायेगा। वहीं अभी काशीपुर से तमाम दावेदार नेताओं की भी अभी प्रतिक्रिया इस संबंध में नहीं आई है। यहाँ तक कि नरेंद्र चंद्र सिंह को उम्मीदवार घोषित किये जाने पर कुछ एक कांग्रेस नेताओं को छोड़कर अधिकांश ने स्वागत या प्रसन्नता जैसी कोई प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की। ये वही नेता हैं जो प्रदेश और देश स्तर के नेताओं के आने पर बधाई और स्वागत बैनरों को सोशल मीडिया पर पोस्ट करने में पीछे नहीं रहते थे। स्थानीय विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस नेताओं की चुप्पी आने वाले तूफान का संकेत दे रही है। 

Check Also

दिल्ली सरकार के दो वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ FIR दर्ज, अल्मोड़ा की एक अदालत ने जारी किए आदेश

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (12 अप्रैल 2024) पिथौरागढ़ः उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले की …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-