Breaking News

उत्तराखंड: इस बार फिर बनेगी भाजपा सरकार या कांग्रेस के हाथ लगेगी बाजी

ओपिनियन पोल के आंकड़े बताते हैं कि बीजेपी को इस चुनाव में 39 फीसदी वोट मिल सकते हैं तो कांग्रेस को 37 फीसदी वोट हासिल हो सकते हैं। आम आदमी पार्टी के खाते में 13 फीसदी वोट जा सकते हैं।

@शब्द दूत ब्यूरो (11 जनवरी, 2022)

उत्तराखंड में चुनाव की तारीख का ऐलान हो चुका है। कड़ाके की ठंड में भी राज्य का राजनीतिक पारा नई ऊंचाइयों को छू रहा है। इस बार जहां एक ओर कांग्रेस एक बार फिर सत्ता पाने को बेताब है, तो वहीं दूसरी ओर भाजपा दोबारा सत्ता में वापिसी कर उत्तराखंड में एक बार कांग्रेस-एक बार बीजेपी के तिलिस्म को तोड़ना चाहती है।

इस बात में कोई शक नहीं कि लंबे समय से चल रही इस ‘प्रथा’ को तोड़ने के लिए दोनों ही राष्ट्रीय पार्टियां ऐड़ी-चोटी का जोर लगा रही हैं। फिलहाल उत्तराखंड की राजनीति में चर्चा है कि क्या इस बार पुष्कर सिंह धामी बीजेपी की धमक बरकरार रख पाएंगे या हरीश रावत के नेतृत्व में कांग्रेस सत्ता हासिल कर लेगी।इसका जवाब 10 मार्च को मतगणना के बाद मिलेगा।

फिलहाल एक ताजा ओपिनियन पोल में दोनों पार्टियों में कांटे की टक्कर दिख रही है। सीवोटर और एबीपी न्यूज की ओर से किए गए ओपिनियन पोल के नतीजे बताते हैं कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और कांग्रेस में नजदीकी मुकाबला हो सकता है। ओपिनियन पोल के मुताबिक, बीजेपी 31 से 37 सीटें जीत सकती है तो कांग्रेस भी 30 से 36 सीटें हासिल कर सकती है। वहीं, आम आदमी पार्टी 2-4 सीटों पर सिमट सकती है।

इस ओपनियन पोल के मुताबिक, बीजेपी और कांग्रेस के बीच बराबरी की टक्कर है और बाजी किसी ओर भी जा सकती है। उत्तराखंड में 70 विधानसभा सीटों वाली विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा 36 है। पिछले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 51 सीटें मिली थीं तो कांग्रेस को 11 सीटें हासिल हुईं थीं।

ओपिनियन पोल के आंकड़े बताते हैं कि बीजेपी को इस चुनाव में 39 फीसदी वोट मिल सकते हैं तो कांग्रेस को 37 फीसदी वोट हासिल हो सकते हैं। आम आदमी पार्टी के खाते में 13 फीसदी वोट जा सकते हैं तो अन्य 11 फीसदी वोट ले सकते हैं। बता दें कि 2017 के चुनाव में बीजेपी को 46 फीसदी वोट मिले थे तो कांग्रेस को 33 फीसदी। इस लिहाज से देखें तो दोनों ही पार्टियों के वोट शेयर में कमी दिख रही है।

ओपिनियन पोल के मुताबिक, सर्वे में शामिल हुए सर्वाधिक 37 फीसदी लोगों ने कांग्रेस नेता हरीश रावत को मुख्यमंत्री पद के लिए पहली पसंद बताया तो 29 फीसदी लोग पुष्कर सिंह धामी को दोबारा मौका देना चाहते हैं। 18 फीसदी लोग बीजेपी के अनिल बलूनी को सीएम बनाना चाहते हैं। 9 फीसदी ने आम आदमी पार्टी के सीएम उम्मीदवार कोठियाल को पसंद किया तो 7 फीसदी किसी अन्य को मुख्यमंत्री पद पर देखना चाहते हैं।

Check Also

पहाड़ों की रानी Mussoorie में पर्यटकों की भारी भीड़, Nainital में ईद के बाद उमड़ा हुजुम

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (13 अप्रैल 2024) मसूरी: ईद के बाद सेंकेंड …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-