Breaking News

ब्रेकिंग :ऊधमसिंहनगर जिले में एक ही परिवार के चार सदस्यों की धारदार हथियारों से काटकर निर्मम हत्या

@शब्द दूत ब्यूरो (29 दिसंबर 2021)

राज्य के ऊधमसिंहनगर जिले के नानकमत्ता में एक ही परिवार के चार सदस्यों की धारदार हथियारों से हत्या की सनसनीखेज वारदात से हड़कंप मच गया है।चार हत्याओं की सूचना क्षेत्र में आग की तरह फैल गयी। पूरे जनपद से पुलिस बल  नानकमत्ता पहुंच गया। जिलाधिकारी , एसएसपी, एसपी समेत तमाम अधिकारी व विभिन्न थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गयी।

आज राष्ट्रीय राजमार्ग 125 में देवहा नदी के किनारे सिद्धानवदिया गांव की ओर जाने वाले रास्ते में दो शव दिखाई दिये। सूचना पाकर थानाध्यक्ष केसी आर्या पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। दोनों शवों की पुलिस ने शिनाख्त की तो पुलिस जानकारी के लिए उनके घर पहुंची। घर में दो और शव मिलने से मामला संगीन हो गया। यहाँ भी दो महिलाओं को धारदार हथियारों से काटकर मार डाला गया था। दोनों महिलाओं के शव चारपाई पर पड़े हुये थे।

अंकित रस्तोगी उर्फ अजय रस्तोगी(28) पुत्र शिव शंकर वार्ड नंबर 6 नानकमत्ता में अपनी मां आशा रस्तोगी(55) पत्नी शिव शंकर रस्तोगी के साथ रहते थे। करीब 1 महीने पहले अंकित ने आशीर्वाद ज्वेलर्स नाम से दुकान खोली थी। दुकान खोलने के दौरान अंकित का ममेरा भाई उदित रस्तोगी पुत्र अनिल रस्तोगी निवासी शाही बरेली और और नानी सन्नो देवी(80) पत्नी हजारीलाल उनके घर में आए थे।

दोनों युवकों  शवों पर धारदार हथियार के गले और पेट, सिर पर गहरे निशान थे। पुलिस का मानना है कि किसी तेज धारदार हथियार से युवकों का गला रेता गया हो। पुलिस को मौके से मृतक अंकित रस्तोगी का मोबाइल मिला।इसके जरिए पुलिस ने अंकित के भाई आदेश रस्तोगी से फोन कर संपर्क साधा। भाई की मौत की सूचना से आदेश स्तब्ध हो गया। पुलिस ने आदेश से अंकित के घर की जानकारी ली और पुलिस की एक टीम घर की ओर रवाना हो गई। पुलिस जब वार्ड नंबर 6 में अंकित के घर पहुंची तो घर का शटर गिरा हुआ था लेकिन अंदर से बंद नहीं था।

पुलिस ने शटर उठाकर अंदर देखा तो अंदर आशा रस्तोगी और सन्नो देवी के शव पड़े हुए थे। उनके शरीर पर भी तेज धारदार हथियार से प्रहार के निशान थे। दो और शव बरामद होने पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। डीएम युगल किशोर पंत, एसएसपी दलीप सिंह कुंवर, एएसपी ममता बोहरा सहित आला अधिकारी मौके पर पहुंचे।

अधिकारियों ने दोनों घटनास्थलों का मुआयना किया है। इस हत्याकांड के बाद मृतकों के परिवार में कोहराम मचा हुआ है। पुलिस की अब तक की जांच में हत्या कांड का कोई कारण सामने नहीं आया है। एसओजी समेत कई पुलिस टीमें हत्याकांड के खुलासे के लिए जांच में जुट गई हैं। सीसीटीवी फुटेज व मोबाइल नम्बरों की सीडीआर खंगाली जा रही है। विधायक डॉ प्रेम सिंह राणा, जिलाधिकारी युगल किशोर पंत और अपर जिलाधिकारी नजूल और प्रशासन जय भारत सिंह भी घटनास्थल पर पहुंच गये और मौके पर जानकारी ली। घटना की सुरागरसी के लिए डॉग स्क्वाड व फोरेंसिक एक्सपर्ट भी पहुचे। 

 

Check Also

सोशल मीडिया: प्रत्याशियों के फॉलोअर्स ने भरी उड़ान, कन्हैया ने तोड़े सारे रिकॉर्ड

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (22 अप्रैल, 2024) दिल्ली में लोकसभा …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-