Breaking News

आर्मी चीफ जनरल एम.एम. नरवणे हो सकते हैं अगले सीडीएस, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ कमेटी के चैयरमेन बने

सेना के बाकी दोनों अंगों के चीफ वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी आर चौधरी और नौसेना प्रमुख आर हरि कुमार इनसे जूनियर हैं, इसलिए दोनों यह पद संभाल नही सकते हैं।

@नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (16 दिसंबर, 2021)

थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने चैयरमेन ऑफ द चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ कमेटी की जिम्मेदारी संभाल ली है। सेना के तीनों अंगों के प्रमुखों में से जो वरिष्ठ होता है उसे यह जिम्मेदारी दी जाती है। पहले यह जिम्मेदारी चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के पास थी लेकिन 8 दिसंबर को हेलीकॉप्टर हादसे में जनरल रावत के निधन के बाद तीनों चीफ में सीनियर मोस्ट होने की वजह से जनरल नरवणे को यह जिम्मेदारी मिली है।

सेना के बाकी दोनों अंगों के चीफ वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वी आर चौधरी और नौसेना प्रमुख आर हरि कुमार इनसे जूनियर हैं, इसलिए दोनों यह पद संभाल नही सकते हैं।

जब सरकार ने दिसंबर 2019 में पहले सीडीएस पद के जनरल रावत के नाम का ऐलान किया था तो चेयरमैन का पद सीडीएस के साथ-साथ जनरल बिपिन रावत के पास चला गया। हालांकि उससे पहले सेना के तीनों अंगों में तालमेल के लिये सेना में चैयरमेन ऑफ द चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी का पद था।

उस वक्त तीनों चीफ में जो वरिष्ठ होता था वह यह पद संभाल लेता था। अब जबकि सीडीएस का पद खाली है इसलिए पुरानी परंपरा फिर से बहाल हो गई है, ताकि सेना के बीच आपसी तालमेल के कामकाज में कोई दिक्कत ना हो।

जब सरकार सीडीएस का ऐलान करेगी तो अपने आप यह पद उनके पास चला जायेगा। संभावना है कि तीनों चीफ में वरिष्ठ होने की वजह से थल सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे ही को सरकार सीडीएस बनाएगी।

Check Also

14 साल की नाबालिग को सुप्रीम कोर्ट से राहत, 28 हफ्ते की प्रेग्नेंसी खत्म करने की इजाजत

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (22 अप्रैल 2024) सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-