Breaking News

भगवा रंग में रंग दी मस्जिद, विरोध होने पर प्रशासन ने मानी गलती

श्री विश्वनाथ कॉरिडोर के रास्ते में आने वाली एक मस्जिद को भी रातों-रात भगवा रंग का रंग दिया गया। इस पर मुस्लिम धर्म गुरुओं ने विरोध जताया जिसके बाद प्रशासन ने इसे गलती मान कर फौरन मस्जिद की सफ़ेद रंग में पुताई की।

@नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (08 दिसंबर, 2021)

आगामी 13 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे को लेकर श्री विश्वनाथ कॉरिडोर के आसपास के इलाकों को रंगना शुरू हो गया है। यह रंग भगवा रंग में किया जा रहा है। रंग-रोगन करने की इसी कड़ी में रास्ते में आने वाली एक मस्जिद को भी रातों-रात भगवा रंग का रंग दिया गया। इस पर मुस्लिम धर्म गुरुओं ने विरोध जताया जिसके बाद प्रशासन ने इसे गलती मान कर फौरन मस्जिद की सफ़ेद रंग में पुताई की।

बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट श्री विश्वनाथ कॉरिडोर लगभग 5 लाख वर्गफुट में बनाया जा रहा है, जिसे तीन भागों में बांटा गया है। पहला मुख्य मंदिर परिसर उसके बाद मंदिर चौक और फिर घाट की तरफ जाने वाला वह रास्ता जिसके दोनों तरफ इमारतें हैं और कुछ पुराने मंदिरों का जीर्णोद्धार किया जा रहा है। इसे अहमदाबाद की पीएसपी कंपनी तैयार कर रही है। इस पूरे प्रोजेक्ट में चुनार के बलुआ पत्थर, और राजस्थान के बालेश्वर स्टोन ग्रेनाइट का इस्तेमाल किया गया है। इसका लोकार्पण 13 दिसंबर को पीएम मोदी करेंगे।

विश्वनाथ कॉरिडोर के मंदिर परिसर को सिर्फ बड़ा ही नहीं बनाया गया है बल्कि उसे भव्य रूप भी दिया जा रहा है। स्थापत्य में इसकी प्राचीनता भी झलकती है। बड़े-बड़े मेहराबदार चार द्वार, ख़ूबसूरत नक्काशी वाले स्तंभ और प्रदक्षिणा पथ जिसमें अलग-अलग इलाकों के पत्थर लगाए गए हैं। मंदिर के परिसर में 27 संगमरमर के पैनल हैं जिनमें काशी का पुराना इतिहास भी है।

Check Also

48 घंटे तक शराब पर रहेगा बैन, नोएडा, गाजियाबाद सहित यूपी के 8 जिलों में नहीं खुलेंगे ठेके

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (24 अप्रैल, 2024) लोकसभा चुनाव के लिए राजनीतिक …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-