Breaking News

काशीपुर :सड़क न बनने से गुस्साए कालोनीवासियों ने वोट नहीं देने की घोषणा की तो दीपक बाली ने मनाया

@शब्द दूत ब्यूरो (06 दिसंबर 2021) 

काशीपुर में बाजपुर रोड स्थित शंकरपुरी कालोनी के निवासी लंबे समय से सड़क न बनने से आक्रोशित हैं। आज कालोनीवासियों न इसक विरोध में प्रदर्शन किया यहाँ तक कि आगामी विधानसभा चुनाव में किसी को वोट न देने की  घोषणा कर डाली। 

इस बात की जानकारी मिलने पर आप नेता दीपक बाली मौके पर पहुंचे और कालोनी का निरीक्षण किया। सड़क की दुर्दशा देखकर उन्होंने तत्काल नगर निगम के एम एन ए से कालोनीवासियों के सामने ही फोन पर बात की। दीपक बाली ने कहा कि एम एन ए ने शीघ्र ही इस कालोनी की सड़क के लिये टेंडर प्रक्रिया शुरू करने का आश्वासन दिया। 

वोट न देने को लेकर दीपक बाली ने कालोनीवासियों से कहा कि कि वोट देना लोकतांत्रिक प्रक्रिया के लिए जरूरी है। आप वोट अवश्य दें चाहें किसी को भी दें।

दरअसल चुने हुए जनप्रतिनिधियों से मिली निराशा के चलते चेहरे पर बेबसी भरा आक्रोश ,जुबां पर सडक नहीं तो वोट नहीं का नारा और हाथों में नारे लिखी तख्तियां तथा कॉलोनी की सडकों की दुर्दशा देखकर हर किसी का दिल पसीज जाए मगर नहीं पसीजा तो काशीपुर के चुने हुए जनप्रतिनिधियों का पत्थर हो चुका दिल।आप नेता दीपक बाली यह मंजर देख कर आश्चर्यचकित रह गए ।

वैसे नगर निगम के वार्ड नंबर 5 में आने वाली इस कालोनी की सड़कों की स्थिति बदहाल है। जिन मासूम बच्चों के हाथों में किताब होनी चाहिए वे भी इस आंदोलन में तख्ती लिए इसलिए साथ खड़े हैं। क्योंकि बरसातों में गड्ढों में समायी सडक पर जब पानी भर जाता है तो स्कूल जाते इन बच्चों की साइकिले उन गड्ढों में फंस कर गिर जाती है। एक बुजुर्ग महिला ने बताया कि वह इस क्षेत्र में 16 वर्षों से रह रही है ।उसने आज तक यहां सड़क नहीं देखी । एक मासूम बच्चे से जब पूछा गया कि तुम यहाँ क्या कर रहे हो तो उसका जवाब था कि मैं कई बार बरसातों में इस सड़क पर भरे पानी के गड्ढों में गिर चुका हूं और एक बार तो मेरी टांग भी टूट गई थी। मेरे दूसरे साथी बालक भी स्कूल जाते समय सड़क पर गिरते रहते हैं ।. ग रीब परिवार का हूं फिर भी जैसे तैसे मेरे माता पिता ने मेरा इलाज कराया । मुझे बताया गया कि आज राजनीति करने वाले नहीं राजनीति बदलने वाले आ रहे हैं इसलिए मैं भी बस्ती वालों और अपने साथी बच्चों के साथ यहां मौजूद हूं । मासूम बालक सवाल करता है कि क्या आपका ही नाम दीपक बाली है सर ?क्योंकि यहां चर्चा हो रही थी कि अब इस सड़क को दीपक बाली ही बनवा सकते हैं। इस बच्चे की बात सुनकर एवं कॉलोनी वासियों की उदासी और बेबसी देखकर आप नेता श्री बाली ने मौके पर ही नगर निगम के नगर आयुक्त से मोबाइल पर वार्ता की और उन्हें जब मौके की स्थिति और बस्ती वासियों का दर्द बताया तो उन्होंने कहा कि प्रार्थना पत्र भिजवा दो शीघ्र ही होने वाले टेंडरों में इस सड़क को भी शामिल कर इसका निर्माण करा देगें ।

पीड़ित जनता ने बताया कि बार बार विधायक के चक्कर काटने पर भी वह सड़क बनवाना तो दूर हमारी बात तक नहीं सुनते ।हमने मेयर साहिबा के यहां भी दस्तक दी मगर वहां भी निराशा के सिवाय कुछ नहीं मिला ।अब हमने निर्णय लिया है कि सड़क नहीं तो वोट नहीं। इस पर आप नेता दीपक बाली ने कहा कि वोट देना आपका लोकतांत्रिक अधिकार है ।वोट अवश्य देना और भले ही किसी को भी देना मगर हम प्रयास करते हैं कि वोट डालने से पहले आपके क्षेत्र की सड़क बन जाए। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि जनता के विकास कार्य करने के लिए होते हैं मगर दुखद स्थिति है कि पिछले 20 वर्षों से जनता इसी तरह परेशान हैं और जनप्रतिनिधि शांत बैठे हैं ।श्री बाली ने बस्ती वासियों को विश्वास दिलाया कि वह प्रयास कर उनके क्षेत्र की सड़क का निर्माण कराएंगे ।मौके पर आम आदमी पार्टी की महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष गीता रावत, महिला मोर्चा की महानगर उपाध्यक्ष पूजा अरोरा विधानसभा सचिव मधुबाला सचदेवा ,अमित सक्सैना जिला सचिव तेजवीर सिंह जय वीर यादव, गौरव दहिया, महानगर उपाध्यक्ष मनोज कुमार शर्मा ,देवराज ,आरेंद्र वर्मा, तथा वार्ड नंबर 5 की इस कॉलोनी के शिव जी, राजेश, धर्मात्मा, यशोदा, करण सिंह, सतनाम सिंह, राज कुमार वर्मा, बलविंदर सिंह, सुजान सिंह, राम लखन ,बालक सतीश ,सुमेर ,राजन, इकबाल, धरमवीर, ज्ञानेंद्र ,वीरेंद्र कुमार ,इकबाल सिंह ,नरेंद्र ,बृजपाल सहित दर्जनों स्त्री पुरुष मौजूद रहे।

Check Also

पहाड़ों की रानी Mussoorie में पर्यटकों की भारी भीड़, Nainital में ईद के बाद उमड़ा हुजुम

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (13 अप्रैल 2024) मसूरी: ईद के बाद सेंकेंड …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-