Breaking News

क्रेटा कार और 20 लाख लेकर एटीएम चोरों को छोड़ा, इंस्पेक्टर और कॉन्स्टेबल बर्खास्त

गाजियाबाद के इंदिरापुरम थाना पुलिस द्वारा पूछताछ में एक गैंग ने इस बात का खुलासा किया कि गैंग मेंबर्स ने नोएडा पुलिस के साथ छोड़ने की एवज में लेनदेन किया था। पुलिस कमिश्नर ने जानकारी मिलते ही जांच बैठा दी।

@नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (01 दिसंबर, 2021)

नोएडा क्राइम ब्रांच के एक इंस्पेक्टर और कॉन्स्टेबल को पुलिस कमिश्नर ने तत्काल प्रभाव से बर्खास्त कर दिया। एटीएम चोरों की गैंग से कार और 20 लाख रुपए लेने के मामले में पुलिसकर्मियों पर यह कार्रवाई की गई है। गाजियाबाद पुलिस की पूछताछ में गैंग मेंबर्स ने नोएडा पुलिस के लेन-देन का खुलासा किया था।

पुलिस कमिश्नर गौतमबुद्ध नगर आलोक कुमार सिंह ने क्राइम ब्रांच के प्रभारी इंस्पेक्टर सावेज खान के साथ कॉन्स्टेबल अमरीश यादव को बर्खास्त किया है। इन दोनों और इनकी टीम पर एटीएम लूट कांड के आरोपियों को 20 लाख रुपए और क्रेटा कार लेकर छोड़ देने का आरोप साबित हुआ है।

दरअसल, गाजियाबाद के थाना इंदिरापुरम पुलिस और क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम ने एटीएम हैकर गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया था। उनके बारे में जानकारी जुटाने के लिए पूछताछ चल ही रही थी, तभी हैकर गिरोह से सीसीटीवी में कैद एक क्रेटा कार के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि यह क्रेटा कार नोएडा पुलिस की एसओजी की टीम के पास है।

साथ ही उन्होनें ये भी बताया कि उन्हें करीब तीन माह पहले एसओजी नोएडा की टीम ने पकड़ा था। उस दौरान उनके पास 10 लाख रुपये नकद थे, जो एसओजी टीम ने ले लिए थे। उसके बाद बदमाशों से और 10 लाख रुपये लेने के लिए एसओजी की एक टीम उनके घर गई थी। पुलिस टीम वहां से 10 लाख रुपए और क्रेटा कार ले आई।

इस पर थाना इंदिरापुरम पुलिस ने हैकर को उनके घर ले जाकर वहां से एसओजी टीम द्वारा क्रेटा कार ले जाने की सीसीटीवी फुटेज भी बरामद कर लिए, और यह पूरी जानकारी रिपोर्ट बनाकर डीजीपी मुख्यालय को भेजी, जिसमें जांच कर आवश्यक कार्रवाई के निर्देश पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह को निर्देश दिए और फिर ये कार्रवाई की गई है।

Check Also

लखनऊ: तिलक समारोह से लौट रहे शख्स की गोली मारकर हत्या, 3 घायल

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (13 अप्रैल 2024) उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-