Breaking News

हेरिटेज होटल से कम नहीं है ये पुलिस स्टेशन ‘भारत का नंबर एक थाना’ घोषित

थाने के अंदर का नजारा किसी हेरिटेज होटल से कम नहीं है। थाने के आंगन में बैडमिंटन कोर्ट है और एक जिम भी है। इस थाने के रेकॉर्ड रूम समेत हर कमरा व्यवस्थित और साफ-सुथरा है। यहां बच्चों के लिए एक स्टडी रूम भी है।

@नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (18 नवंबर, 2021)

राजधानी दिल्ली के 160 साल पुराने सदर बाजार पुलिस स्टेशन को देश के सर्वश्रेष्ठ तीन थानों में एक चुना गया है। गृहमंत्री अमित शाह इस थाने के एसएचओ को अवार्ड देंगे। दिल्ली के सबसे पुराने थानों में एक सदर बाजार पुलिस थाना साल 1861 में शुरू हुआ।

सदर बाजार के एसएचओ कन्हैया लाल यादव बताते हैं कि इस थाने में पहली एफआईआर दल्लू माली नाम के शख्स ने 31 दिसम्बर 1861 को कराई थी। आरोप था कि उसका सात रुपये का सरसों का तेल चोरी हो गया है, तब से इस इमारत को दिल्ली पुलिस ने दुल्हन की तरह सज़ा कर रखा है। हाल ही में गृह मंत्रालय की एक टीम ने इस थाने का कई बार निरीक्षण किया था और इस साल इस थाने को देश के सर्वश्रेष्ठ तीन थानों में एक चुना गया था।

इस थाने में घुसते ही आपको अहसास हो जाएगा कि ये थाना आम थानों से अलग है। बाहर विजिटर रूम है, जिसमे दिव्यांगों फरियादियों के लिए एक व्हीलचेयर है। सीसीटीवी कैमरों से पूरे थाने की निगरानी की जा रही है। बच्चों के खेलने के लिए ये किड्स जोन है। थाने के अंदर का नजारा किसी हेरिटेज होटल से कम नहीं है। थाने के आंगन में बैडमिंटन कोर्ट है और एक जिम भी है।

इस थाने के रेकॉर्ड रूम समेत हर कमरा व्यवस्थित और साफ-सुथरा है। यहां बच्चों के लिए एक स्टडी रूम भी है। पुलिसकर्मियों के मनोरंजन के लिए रिक्रिएशन रूम है और इसी थाने में एक फारेंसिक लैब भी है, जिसका उद्देश्य है कि हर केस की जांच तेजी से हो।

Check Also

मंगलसूत्र और केंचुआ का ध्यान योग@वरिष्ठ पत्रकार राकेश अचल की बेबाक कलम से

🔊 Listen to this केंचुआ हो या चौकीदार यदि अपना काम मुस्तैदी से न करे …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-