Breaking News

उत्तराखंड: हरीश रावत ने किया बहुगुणा पर कटाक्ष, कहा-उजाड़ू बल्द वहीं रहें

@शब्द दूत ब्यूरो (28 अक्टूबर, 2021)

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा पर तंज किया कि वह बेरोजगार हो गए थे, भाजपा में उन्हें रोजगार मिल गया है। उन्होंने कहा कि बहुगुणा का दर्द राज्यसभा था। लेकिन भाजपा ने भी उन्हें राज्यसभा नहीं भेजा।

अपने कुनबे के विधायकों को मनाने पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा से जुड़े सवाल पर हरीश रावत ने चुटीले अंदाज में कहा कि विजय बहुगुणा को भाजपा में रोजगार मिल गया है। साथ ही यह भी साफ हो गया कि भाजपा के अंदर बहुत जबर्दस्त गड़बड़ है। गड़बड़ को लेकर उनका शीर्ष नेतृत्व चिंतित है।

रावत ने कहा, भाजपा ने भी राज्यसभा नहीं दी तो भाजपा से निकल कर वे आप में तो नहीं जा रहे, क्योंकि कांग्रेस तो शायद उनको ले ही नहीं। वह कहां से चुनाव लड़ रहे हैं, बहुगुणा के इस सवाल पर उन्होंने कहा कि मेरे चुनाव लड़ने पर उनकी चिंता है। इसका सीधा अर्थ है कि मोदी की लहर पर बहुगुणा को भरोसा नहीं रह गया है। असंतुष्टों को मनाने पहुंचे बहुगुणा के अभियान पर हरीश रावत ने कहा कि उन्होंने क्या गारंटी ली है, यह भाजपा और उनके बीच की बात है। लेकिन उसके लिए भाजपा क्या कीमत देने जा रही है?

हरीश रावत ने कहा कि मेरी तो भगवान से प्रार्थना है कि ज्यादातर उजाड़ू बल्द उधर ही रहें। ऐसे में भाजपा की जो गत आज हुई है, आगे इससे भी बुरी होगी, यह निश्चित है। इसलिए उनका उधर रहना हमारे लिए शुभ है। इतना अवश्य है कि कुछ लोग पार्टी के संपर्क में हैं। पार्टी चाहेगी तो उन्हें लिया जा सकता है।

पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा की अगले 15 दिन में कांग्रेस में बड़ी उथल पुथल के संकेत पर हरीश रावत ने कहा कि यह भविष्यवाणी सही हो सकती है। भाजपा के अंदर बहुत बड़ी टूट हो सकती है।

हरीश रावत ने कहा कि विजय बहुगुणा के दलबदल कुकर्म के कारण भाजपा 2022 में उत्तराखंड में सरकार से बाहर जा रही है। बाहर जाने की शुरुआत बहुगुणा के दलबदल के कुकर्म से हुई है। यदि वो उधर नहीं होते तो इतने प्रचंड बहुमत के बाद वहां न ऐसी हड़बड़ी होती और न टूटफूट की संभावनाएं होतीं।

Check Also

पहाड़ों की रानी Mussoorie में पर्यटकों की भारी भीड़, Nainital में ईद के बाद उमड़ा हुजुम

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (13 अप्रैल 2024) मसूरी: ईद के बाद सेंकेंड …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-