Breaking News

दीपावली पर मिठाईयां खरीद रहे हैं तो रहिए सावधान, मिलावटी सामान बिगाड़ सकता है आपकी सेहत

@नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (26 अक्टूबर, 2021)

दीपावली पर अगर आप खाने-पीने के सामान की खरीदारी कर रहे हैं तो बेहद सतर्क होकर कीजिए। कहीं ऐसा नहीं हो कि खाने पीने के सामान के नाम पर बीमारी घर लेकर आ जाएं। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग ने इस बारे में एक एडवाइजरी भी जारी की है। इन दिनीं तमाम इलाकों में मिलावट का सामान बनाया जा रहा है।

सबसे अधिक डिमांड खोए की है और बाजार में इसे पूरा करने की क्षमता नहीं है। बाजार में खोए की डिमांड पूरा करने के लिए राजधानी के आसपास इलाकों से मिलावटी खोए की बड़ी सप्लाई होती है। मिठाइयों को तैयार करने में जिस खोए का इस्तेमाल किया जा रहा है उसमें मैदा, आलू और आरारोट को मिलाकर तैयार किया जा रहा है। इसके अलावा मिठाइयां तैयार करने में मानकों से अधिक खतरनाक कलर मिलाए जा रहे हैं जो सेहत के लिए बेहद हानिकारक हैं।

दूध के कारोबारी भी मिलावट करने में पीछे नहीं हैं। दूध कारोबारी बढ़ती डिमांड को पूरा करने के लिए दूध में गंदा पानी और दूषित बर्फ का इस्तेमाल कर रहे हैं। वही दूध को कई दिनो बनाए रखने के लिए उसमें प्रतिबंधित माल्टो डेक्सिट्रन पाउडर मिलाया जा रहा है। पाउडर को दूध में मिलाना प्रतिबंधित है इसके बावजूद ग्रामीण इलाकों और मंडियों से आ रहे दूध में इसकी सप्लाई की जा रही है।

बाजार में सॉस और कैचप के नाम पर लोगों को केवल रंग और शुगर का घोल खिलाया जा रहा है। सिंथेटिक कलर के अलावा बेसन, आरारोट व मैदा का प्रयोग कर लोगों को सॉस तैयार किया जा रहा है। बाजार में तरह-तरह के चिप्स, पापड़ और दालमोठ हैं जिनमें मानकों से कई गुना अधिक कलर मिलाकर बेचा रहा है। यह रंग उस स्तर का है जो आपकी सेहत बिगाड़ सकता है।

Check Also

14 साल की नाबालिग को सुप्रीम कोर्ट से राहत, 28 हफ्ते की प्रेग्नेंसी खत्म करने की इजाजत

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (22 अप्रैल 2024) सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-