Breaking News

उत्तराखंड :तेंदुए के आतंक के चलते नाइट कर्फ्यू, घरों में कैद होने पर मजबूर हुए लोग

@शब्द दूत ब्यूरो (23 सितंबर, 2021)

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में तेंदुए के बढ़ते आतंक को देखते हुए जिलाधिकारी के आदेश के बाद पौंण, पपदेव, बजेटी, जीआईसी, चंडाक सड़क और रई क्षेत्र में 21 सितंबर से नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। यह पहली बार होगा जब तेंदुए के आतंक के चलते शाम छह बजे बाद इन क्षेत्रों में लोगों को घरों में कैद होना पड़ेगा।

एसडीएम नंदन कुमार ने बताया नाइट कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर संबंधित व्यक्ति के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई के लिए थाना कोतवाली को निर्देश दिए गए हैं। साथ ही नाइट कर्फ्यू का प्रचार प्रसार करने के लिए थाना कोतवाली, वन विभाग, आपदा प्रबंधन अधिकारी को जिम्मेदारी दी गई है।

जिला मुख्यालय से सटे पाटा गांव में बीते रविवार को तेंदुआ आठ वर्षीय मासूम मानसी को उठा कर ले गया था। घर से 100 मीटर की दूरी पर वन विभाग को उसका शव मिला था। अब वन विभाग ने बच्ची को मारने वाले तेंदुए को आदमखोर घोषित कर दिया है। क्षेत्र में दूसरा पिंजरा भी लगाया गया है। घटना के बाद से लोगों में वन विभाग के खिलाफ आक्रोश था।

डीएफओ डॉ. विनय भार्गव ने बताया कि पाटा में मासूम बच्ची को मारने वाला तेंदुआ आदमखोर घोषित कर दिया गया है। जल्द ही शिकारी को बुलाया जाएगा। क्षेत्र में आठ वन कर्मी लगातार गश्त कर रहे हैं। तेंदुए के आतंक को देखते हुए प्रशासन ने नाइट कर्फ्यू लगाया है। ऐसे में लोग घरों में ही रहें और समय से बाजार से अपने काम कर घर लौट जाएं।

Check Also

मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने किया श्री केदारनाथ धाम का निरीक्षण

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (22 अप्रैल 2024) रुद्रप्रयाग: उत्तराखंड की मुख्य सचिव …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-