Breaking News

बड़ी खबर बाजपुर से :कोसी के तेज बहाव में पलटा ट्रैक्टर, छह नदी में डूबे, चार तैर कर बाहर निकले, मां बेटी की तलाश जारी

@अमित सैनी

बाजपुर (7 सितंबर 2021)। कोसी नदी के तेज बहाव के बीच फंसे ट्रैक्टर के पलट जाने से उस में सवार छः लोग नदी में जा गिरे। चार लोग किसी तरह बच कर बाहर निकल आये पर एक महिला और उस की सात वर्षीय पुत्री का पता नही चल पाया है। घटना के बाद स्थानीय पुलिस, प्रशासन तथा आसपास के सैंकड़ो लोग नदी किनारे देर रात्रि तक खोजबीन करते रहे पर दोनो मांबेटी का कुछ पता नही चल पाया है। मजदूर परिवार के साथ हुये इस हादसे को लेकर परिजनो में चीत्कार मचा हुआ है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सीतापुर कालोनी निवासी मंगल सिंह, उस की धर्मपत्नि मुन्नी देवी तथा सात वर्षीय पुत्री सिमरन कोसी पार ग्राम गुलजारपुर में खेतीहर मजदूर थे। मजदूरी करने के दौरान मुन्नी देवी ने अपने पति मंगल सिंह से घर जाने की जिद की तो वह उसे लेकर कोसी नदी तक पैदल आ गया और वहां कोसी पार जाने के लिये किराये पर ले जाने वाले एक ट्रैक्टर पर बैठ गये। इसी बीच एक महिला और पुरुष सवारी भी ट्रैक्टर पर बैठ गयी। ट्रैक्टर चालक ने जैसे ही नदी के बीच में ट्रैक्टर को डाला तभी अचानक कोसी नदी में तेज बहाव आ गया और वाहन असंतुलित हो कर पलट गया। ट्रैक्टर के पलट जाने से उस पर सवार सभी लोग नदी के तेज बहाव में फंस गये। पुलिस ने बताया कि इस दौरान वाहन का मालिक और एक महिला व पुरुष किसी तरह अपनी जान बचा कर बाहर निकल आये। इसी बीच मंगल सिंह भी पानी से बाहर निकलने में सफल रहा पर मुन्नी देवी और उस की सात वर्षीय बालिका पानी से बाहर नही निकल पाये और उन का कुछ पता नही चल पाया।

घटना की सूचना तत्काल ही आसपास के तमाम ग्रामों में फैल गयी और तत्काल ग्रामीणों का जमावड़ा हो गया। इसी बीच घटना की जानकारी चौकी सुलतानपुर पटटी के इंचार्ज दीपक कौशिक को मिली तो वे भी तत्काल अपनी फोर्स के साथ घटनास्थल पर पहुंच गये और महिला तथा उस की सात वर्षीय बच्ची की खोजबीन में जुट गये।

घटनास्थल पर देर सांय तक तहसीलदार राजेंद्र सनवाल, पुलिस क्षेत्राधिकारी वंदना वर्मा, कोतवाल संजय पाण्डेय भी पहुंच गये और खोजबीन के मुहिम में जुट गये। उपजिलाधिकारी राकेश चंद्र तिवारी को सूचना मिली तो उन्होंने तत्काल जिलाधिकारी उधमसिंहनगर को घटना की सूचना देकर एनडीआरएफ की टीम को मौके पर बुलवाने का अनुरोध किया।

समाचार लिखे जाने तक साढ़े आठ बजे रात्रि तक एनडीआरएफ की टीम नही पहुंच पायी थी। अंधेरा होने के कारण व कोसी नदी का बहाव तेज होने के चलते बचाव व राहत कार्य में बाधा बनी नजर आ रही है। अलबत्ता पुलिस, प्रशासन तथा ग्रामीण अपनी तरफ से खोजबीन में जुटे हुए है। इधर घटना की सूचना पर सीता कालोनी के निवासियों व परिजनो में घटना को लेकर हड़कम्प मचा हुआ है। 

   

Check Also

सोशल मीडिया: प्रत्याशियों के फॉलोअर्स ने भरी उड़ान, कन्हैया ने तोड़े सारे रिकॉर्ड

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (22 अप्रैल, 2024) दिल्ली में लोकसभा …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-