Breaking News

आरएसएस से संबद्ध भारतीय किसान संघ 8 सितंबर को कृषि कानूनों में बदलाव के लिए देशव्यापी आंदोलन करेगा

@नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (19 अगस्त, 2021)

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से संबद्ध भारतीय किसान संघ (बीकेएस) ने केंद्र सरकार की ओर से लाए गए नए कृषि कानूनों पर आपत्ति जताई है। इसके अलावा, आठ सितंबर को बीकेएस किसानों को उनकी उपज के ‘हितकारी मूल्य’ दिए जाने के लिए राष्ट्रव्यापी आंदोलन भी करेगा। 

भारतीय किसान संघ ने कहा कि केंद्र सरकार या तो नया विधेयक लेकर आए या पिछले साल लाए गए कृषि-विपणन कानूनों में बदलाव करे और मुख्य कृषि उपजों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के भुगतान के लिए नया प्रावधान जोड़े। बीकेएस के शीर्ष पदाधिकारी दिनेश कुलकर्णी ने कहा कि किसानों को उनकी उपज का हितकारी मूल्य मिलना चाहिए जिससे वह कृषि संबंधी अपने खर्च पूरे कर सकें, जैसा वे वर्तमान व्यवस्था में नहीं कर पा रहे हैं।

कुलकर्णी ने कहा, ‘हितकारी मूल्य वह है जो लाभ और उत्पादन की लागत मिलाकर होता है, जिसकी हम मांग कर रहे हैं। हितकारी मूल्य पाना किसानों का अधिकार है, जो सरकारों को उन्हें देना चाहिए।’ उन्होंने कहा, ‘सरकार ने जिस एमएसपी का एलान किया है वह हितकारी मूल्य नहीं है। हालांकि, अगर वह ऐसा नहीं कर पा रही है तो भी उसे कम से कम घोषित एमएसपी देनी चाहिए और कानून में बदलाव का एलान करना चाहिए।’

केंद्र के कृषि विपणन नियमों के बारे में कुलकर्णी ने कहा कि इनमें सुधार की जरूरत है। उन्होंने कहा, ‘उदाहरण के तौर पर एक कृषि अदालत होनी चाहिए। इसी तरह कृषि क्षेत्र में आने वाली निजी कंपनियों का पंजीकरण होना चाहिए। जहां तक उपभोक्ताओं का संबंध है तो आवश्यक वस्तु अधिनियम में एक बहुत बड़ी खामी है।’

   

Check Also

सीएम धामी ने परिवहन विभाग का प्रस्ताव किया स्वीकृत, पुरानी दरों पर करा सकेंगे वाहन फिटनेस

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (22 फरवरी 2024) देहरादून। सचिव परिवहन अरविंद सिंह …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-