Breaking News

…तो कोठियाल के बहाने ‘आप’ की नज़र उत्तराखंड के ब्राह्मण वोट पर है!

@शब्द दूत ब्यूरो (18 अगस्त, 2021)

उत्तराखंड के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करते ही आम आदमी पार्टी ने उत्तराखंड में चुनावी बिगुल बजा दिया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने जैसे ही कर्नल अजय कोठियाल को मुख्यमंत्री का चेहरा बनाने का ऐलान किया तो उत्तराखंड की सियासत के पारे में भी जबरदस्त उछाल आ गया।

माना जा रहा है कि इस एलान के साथ ही केजरीवाल ने विरोधी दलों पर बढ़त बना ली है। अब कांग्रेस और बीजेपी पर भी मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने का मानसिक दबाव बना रहेगा। इस लिहाज से चुनावी अभियान में आम आदमी पार्टी बाकी दलों से दो कदम आगे हो गयी लगती है।

पिछले एक साल से उत्तराखंड में चल रही चेहरों की लड़ाई निर्णायक मोड़ पर पहुंच गयी है। केजरीवाल द्वारा पार्टी का चेहरा घोषित करते ही अन्य दलों में भी खलबली मच गयी है। कोठियाल गढ़वाल से खांटी पहाड़ी चेहरा हैं और आम आदमी पार्टी ने गढ़वाल में कोठियाल के सहारे ब्राह्मण मतों में सेंधमारी की कोशिश की है। इसका चुनाव में कितना फायदा होगा यह तो समय ही बताएगा लेकिन फ़िलहाल आप ने भाजपा-कांग्रेस पर एक मनोवैज्ञानिक बढ़त बनाने का एक प्रयास जरूर किया है।

दरअसल 2013 की आपदा के बाद केदारनाथ में किये गए पुनर्निर्माण के कार्यों में कर्नल अजय कोठियाल द्वारा किये गए कार्यों का आम आदमी पार्टी राजनीतिक फायदा उठाना चाहती है। इससे पहले उत्तरकाशी में भी नेहरू इंस्टीट्यूट ऑफ माउंटेनियरिंग के प्राचार्य रहते हुए कोठियाल ने काफी काम किये हैं। उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चमोली समेत कई जिलों में यूथ फाउंडेशन के नाम से एक एनजीओ चलता है जिससे हजारों युवा जुड़े हैं। यह फॉउंडेशन भी कोठियाल का ही है। इसलिए आप ने कोठियाल को आगे किया है।

   

Check Also

उत्तराखंड:खिलाड़ियों को सरकारी नौकरियों में 4 प्रतिशत आरक्षण के प्रावधान वाला विधेयक पेश

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (29 फरवरी, 2024) देहरादूनः उत्तराखंड विधानसभा में मंगलवार को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-