Breaking News

गुरु पूर्णिमा पर हरिद्वार में होगा सिर्फ प्रतीकात्मक स्नान, श्रद्धालुओं के लिए अनिवार्य है आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट

@शब्द दूत ब्यूरो (23 जुलाई, 2021)

इस साल 24 जुलाई को गुरु पूर्णिमा का पर्व मनाया जाएगा। भारत में गुरु पूर्णिमा का दिन सबसे शुभ दिनों में से एक माना जाता है, वहीं इस मौके पर इस साल हरिद्वार सिर्फ स्नान होगा। यानी श्रद्धालुओं के गंगा स्नान पर रोक लगा दी गई है।

कोरोना वायरस महामारी और संभावित तीसरी लहर को देखते हुए, गुरु पूर्णिमा के अवसर पर 24 जुलाई को हरिद्वार में केवल प्रतीकात्मक ‘स्नान’ का आयोजन किया जाएगा।  स्नान में सिर्फ ‘श्री गंगा सभा’ ​​और ‘तीर्थ पुरोहित’ भाग लेंगे। इस बात की जानकारी हरिद्वार जिला प्रशासन ने दी है।

जो श्रद्धालु हरिद्वार पहुंच रहे हैं, उन्हें हरिद्वार जिला प्रशासन की ओर से निर्देश दिए गए हैं कि उनकी आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट 72 घंटे से अधिक पुरानी नहीं होने पर ही उन्हें हरिद्वार में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी, लेकिन उन्हें ‘स्नान’ में अनुमति नहीं दी जाएगी, वह केवल गुरु पूर्णिमा के दिन श्रद्धालु अपने गुरु के दर्शन कर सकेंगे।

बता दें, इस वर्ष, गुरु पूर्णिमा की तिथि 23 जुलाई से शुरू हो रही है और 24 जुलाई की शुरुआत में समाप्त होगी। इस दिन को व्यास पूर्णिमा के रूप में भी जाना जाता है, क्योंकि इस दिन महाभारत के महान ऋषि और लेखक महर्षि वेद व्यास का जन्म हुआ था, वहीं बौद्धों के लिए इसी दिन भगवान गौतम बुद्ध ने उत्तर प्रदेश के सरना में अपना पहला उपदेश दिया था।

Check Also

सोशल मीडिया: प्रत्याशियों के फॉलोअर्स ने भरी उड़ान, कन्हैया ने तोड़े सारे रिकॉर्ड

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (22 अप्रैल, 2024) दिल्ली में लोकसभा …

googlesyndication.com/ I).push({ google_ad_client: "pub-