Breaking News

काशीपुर निवासी राजू बिष्ट सीएम मीडिया कोओर्डिनेटर से शब्द दूत की वार्ता,पहाड़ी क्षेत्रों में रह रहे लोगों की समस्याओं पर सीएम धामी की सकारात्मक सोच

@शब्द दूत ब्यूरो (8 सितंबर 2021)

(विनोद भगत) देहरादून /काशीपुर । शहर निवासी राजू बिष्ट समाज सेवा से जुड़ा हुआ बड़ा नाम है। इन्हें मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपनी टीम में कर मीडिया कोओर्डिनेटर की बड़ी जिम्मेदारी दी है।

इलेक्ट्रिक इंजीनियर राजू सिंह बिष्ट एम बी ए हैं। राजू बिष्ट 18 वर्षों तक गल्फ देशों में नौकरी कर चुके हैं। लेकिन पिछले कई वर्षों से उत्तराखंड में रह रहे हैं। मूल रूप से अल्मोड़ा जिला निवासी राजू बिष्ट ने शब्द दूत से फोन पर अपने निजी जीवन और सामाजिक जीवन से जुड़े मामलों पर बातचीत की। राजू बिष्ट इस समय बच्चों की शिक्षा के सिलसिले में देहरादून में रह रहे हैं। हालांकि काशीपुर के विजयनगर में उनका खुद का मकान है। काशीपुर में कोरोना महामारी के दौरान उन्होंने हंगर फ्री के तहत हजारों लोगों को मुफ्त भोजन उपलब्ध कराया था। इस अभियान में उन्हें काशीपुर के कई अन्य लोगों का सहयोग भी मिला था।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के संपर्क में वह समाज सेवा के जरिये आये थे। तब से  पुष्कर सिंह धामी की सामाजोपयोगी सोच और काम करने के तरीके से प्रभावित किया और 2010 से वह सीएम पुष्कर सिंह धामी के साथ हैं।

राजू बिष्ट कहते हैं कि हमें पर्वतीय इलाकों की मूलभूत समस्याओं के निदान पर गंभीरता से चिंतन मनन करना होगा। राज्य के मैदानी क्षेत्रों की जिंदगी और पहाड़ के गधेरों के बीच रहने वालों की जिंदगी में मूलभूत फर्क है। पहाड़ में रह रहे लोगों की समस्याओं के प्रति सीएम पुष्कर सिंह धामी की सकारात्मक सोच है। वहीं राज्य के हर हिस्से में विकास को लेकर भी पुष्कर सिंह धामी के पास एक बड़ा विजन है। राजू बिष्ट पुष्कर सिंह धामी को एक ऐसा राजनेता मानते हैं जो राजनीति के जरिए कठिन परिश्रम कर उत्तराखंड की जनता को बेहतर जीवन देने के लिए कृतसंकल्प है। सुबह छह बजे से देर रात तक काम कर धामी राज्य के विकास पर फोकस कर रहे हैं। 

राजू बिष्ट दुनिया के कई देशों में घूम चुके हैं। वह कहते हैं कि समस्यायें तो हर जगह है पर उन्हें हल करने के एक पॉज़िटिव सोच की आवश्यकता है। लेकिन इस बात में कोई संदेह नहीं कि पुष्कर सिंह धामी उत्तराखंड के ऐसे ही मुख्यमंत्री हैं। उनके साथ काम कर वह खुद भी राज्य के लोगों के अपना सकारात्मक महत्वपूर्ण योगदान दे सकेंगे। हालांकि एक खास बात राजू बिष्ट ने कही कि उनका कोई पालिटिकल बैकग्राउंड नहीं है। 

   

Check Also

स्लेट से टैबलेट तक का सफर@राकेश अचल

🔊 Listen to this रविवार यानि छुट्टी का दिन।आज के दिन हम न सियासत की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *