Breaking News

काशीपुर में निरंकारी वार्षिक बाल संत समागम

 

काशीपुर।  आज  एक विशाल बच्चों का संत समागम हर्षोल्लास के साथ निरंकारी सत्संग भवन काशीपुर में संपन्न हुआ। प्रातः काल से ही सेवादल की रैली संचालक प्रवीन कुमार सहायक संचालिका मुन्नी चौधरी  की अध्यक्षता में हुई। छोटे-छोटे बच्चों ने बड़ों के साथ पीटी प्रदर्शन करते हुए अनेक खेलों में हिस्सा लिया। उसके पश्चात 10:00 बजे से 12:30 बजे तक एक संत समागम का आयोजन किया गया । जिसमें आसपास के क्षेत्रों के छोटे-छोटे बच्चे और उनके परिजनों ने भाग लिया। छोटे-छोटे बच्चों ने इस अवसर पर वक्ता रूप में अपने गीत ,भजन और भजन के माध्यम से संदेश लोगों तक पहुंचाएं। कि किस प्रकार से आज सतगुरु माता सुदीक्षा जी की छत्रछाया में हम बच्चे सत्संग के साथ जुड़े हैं। सतगुरु के संदेश के साथ साथ इन छोटे-छोटे बच्चों ने समाज में फैले हुए अंधकार को कैसे दूर किया जा सकता है। किस प्रकार से हम एक अच्छे मार्ग पर अच्छे संदेशों के साथ चल सकते हैं।  हमें किस प्रकार से सामाजिक बुराइयों से दूर रहना है।   अनेक भावनाएं गीत और विचारों के द्वारा इन बच्चों के द्वारा प्रस्तुत की गई छोटे-छोटे बच्चों ने मधुर आवाज में गीत भी प्रस्तुत किए और समाज को सही मार्ग पर चलने की और भक्ति मार्ग को अपनाने की प्रेरणा दी।  आज के इस सत्संग की अध्यक्षता राम प्रकाश  गुप्ता द्वारा की गई।  उन्होंने अपने प्रवचनों में बच्चों को भक्ति के मार्ग पर जुड़े रहने की शिक्षा के मार्ग पर आगे बढ़ने की प्रेरणा दी।  और सतगुरु के वचनों पर चलने का संदेश दिया।  मंच का संचालन  अनुराग चौहान द्वारा बखूबी निभाया गया।  स्थानीय प्रमुख   इंद्रजीत सचदेवा  ने भी बच्चों के उत्साह को देखते हुए उनकी और हौसला अफजाई की इस अवसर पर  ओम प्रकाश प्रदीप राजेंद्र हनसा दत्त भट्ट  जबर सिंह पटवारी मोतीलाल तारावती सुधा जानकी भट्ट पूनम रीटा अमरजीत कौर परमजीत कौर सौरभ शानू जसप्रीत कौर तानिया वैभव रोहित हिमांशु राहुल अर्पित योगेश हरीश दिवाकर इत्यादि अनेक बच्चों ने इस कार्यक्रम में भाग लिया।  अनेक बच्चों ने खुद ही वाद्य यंत्र बजाकर हरदेव वाणी का उच्चारण किया और अनेक ब्रह्मलीन स्थानीय महात्माओं के जीवन का जिक्र करते हुए उनके जीवन से प्रेरणा लेने की बात कही सत्संग के पश्चात पुरस्कार वितरण भी सभी बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए किया गया। सत्संग की समाप्ति के बाद गुरु के लंगर की सुंदर व्यवस्था भी सेवा दल के अधिकारियों के द्वारा बनाई गई।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

स्लेट से टैबलेट तक का सफर@राकेश अचल

🔊 Listen to this रविवार यानि छुट्टी का दिन।आज के दिन हम न सियासत की …