Breaking News

काशीपुर – महाकाल के दर्शन को गया था मृतक नरेश

मृतक नरेश का फाइल फोटो

काशीपुर (मनोज श्रीवास्तव) ।दोस्तों के साथ महाकाल का दर्शन करने उज्जैन गए एक अधेड़ उम्र व्यक्ति की लाश आज तड़के राजस्थान के करौली जिले में निमोदा रेलवे स्टेशन के समीप रेलवे लाइन पर दो हिस्सों में कटी पड़ी पाई गई। पुलिस ने मृतक के शव को सपोटरा मोर्चरी में रखा है। मृतक की शिनाख्त मोहल्ला टांडा उज्जैन निवासी नरेश कुमार 50 वर्ष पुत्र रामभरोसे के रूप में हुई।

मृतक नरेश के घर रोते बिलखते परिजन

पता चला है कि बीते 20 अगस्त को टांडा उज्जैन निवासी 11 लोगों की एक टोली महाकाल का दर्शन करने उज्जैन मध्य प्रदेश के लिए निकली। दूसरे दिन 21 अगस्त को पार्षद मनोज वाली भी महाकाल का दर्शन करने उज्जैन पहुंचे। बाली ने बताया कि गत गुरुवार की सुबह सभी ने महाकाल के दर्शन किए। इसके बाद भैरव बाबा का दर्शन किया। शाम 4:55 की ट्रेन थी। बाली ने बताया कि लगभग 1:45 बजे टांडाउज्जैन निवासी नरेश अपना बैग और मोबाइल मध्य प्रदेश के नागदा रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर दोस्तों के पास छोड़ कर खाना खाने चला गया। ट्रेन आने तक जब वह वापस नहीं लौटा तो उसके सभी साथी ट्रेन पर सवार होकर घर की ओर लौट पड़े। इस दौरान नरेश से फोन पर संपर्क हुआ। आपस में तय पाया गया कि वह दूसरी ट्रेन से वाया दिल्ली होते हुए घर लौटेगा। इसी बीच उसका शव तड़के राजस्थान के करौली जनपद के सपोटरा तहसील के निमोदा रेलवे स्टेशन के समीप रेलवे लाइन के किनारे दो हिस्सों में कटा पाया गया। सपोटरा में तैनात कांस्टेबल लक्ष्मण सिंह ने फोन पर बताया कि प्रथम दृष्टया व्यक्ति एक ट्रेन से गिरा होगा और दूसरी ट्रेन की चपेट में आकर उसके टुकड़े हो गए। फिलहाल मृतक की शिनाख्त होने के बाद उसके घर मातमी कोहराम मचा है। मृतक के दो पुत्र तथा दो पुत्रियां हैं। उसका परिवार पिछले कई वर्षों से कान्हा उज्जैन चौकी क्षेत्र में किराए पर रहता है।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

स्लेट से टैबलेट तक का सफर@राकेश अचल

🔊 Listen to this रविवार यानि छुट्टी का दिन।आज के दिन हम न सियासत की …