Breaking News

कर्नाटक में फिर हुआ नाटक, 14 विधायक अयोग्य, येदियुरप्पा के लिए बहुमत साबित करना चुनौती बना

वेद भदोला, दिल्ली कार्यालय

नई दिल्ली।  कर्नाटक में आज एक और नाटकीय घटनाक्रम में सभी 14 बागी विधायकों को स्पीकर ने अयोग्य घोषित कर दिया है। इससे पहले तीन विधायक अयोग्य घोषित किए गए थे। इस प्रकार अब तक कर्नाटक में 17 विधायक अयोग्य घोषित हो चुके हैं।

याद दिला दें कि सोमवार को नये मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को सदन में बहुमत साबित करना है। अयोग्य घोषित हुये विधायकों के बाद सदन में अब कुल   208 हो गई है तथा बहुमत का आंकड़ा 105 हो गया।    भाजपा के  पास इस समय 106 विधायक हैं। लेकिन यह संख्या खतरे के नजदीक होने की वजह से बहुमत साबित होने तक चिंता का विषय बनी हुई है।

अयोग्य घोषित विधायकों के बारे में  स्‍पीकर रमेश कुमार ने यह भी घोषणा की कि अयोग्‍य घोषित किए गए सभी विधायक विधानसभा का 15वां कार्यकाल खत्‍म होने के बाद ही चुनाव लड़ सकेंगे।  अयोग्‍य घोषित किए गए विधायकों में कांग्रेस के बागी विधायक श्रीमंत पाटिल, रोशन बेग, आनंद सिंह, एच विश्‍वनाथ, एसटी सोमशेखर प्रमुख नाम हैं। कर्नाटक विधानसभा के स्‍पीकर केआर रमेश कुमार ने रविवार को कहा कि मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा ने मुझसे कहा है कि मैं कल सदन में होने वाले विश्‍वास मत के लिए तैयारी करूं।  वित्‍त विधेयक भी 31 जुलाई को अमान्‍य हो जाएगा।

अब भाजपा के लिए यह जरूरी है कि उसके सभी समर्थक विधायक सदन में मौजूद रहें ताकि सरकार बची रहे। मतलब चौथी बार मुख्यमंत्री बने बी एस येदियुरप्पा के लिए विश्वास मत हासिल कर पाना किसी चुनौती से कम नहीं होगा। यदि वे विश्वास मत हासिल भी कर लेते हैं तो कम विधायकों की वजह से उन्हें दबाव में काम करना पड़ सकता है। यहाँ बता दें कि येदियुरप्पा एक दबंग मुख्यमंत्री की तरह काम करते हैं ऐसे में क्या येदियुरप्पा समर्थक विधायकों को एकजुट रख पायेंगे या नहीं ये तो आने वाला समय ही बताएगा।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

स्लेट से टैबलेट तक का सफर@राकेश अचल

🔊 Listen to this रविवार यानि छुट्टी का दिन।आज के दिन हम न सियासत की …