Breaking News

सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार,देश में अशांति के लिए नुपुर शर्मा जिम्मेदार

@शब्द दूत ब्यूरो (01 जुलाई 2022)

नुपुर शर्मा जिम्मेदार हैं देश में फैली अशांति के लिए। यह कहते हुए आज सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें कड़ी फटकार लगाई। देश की सबसे बड़ी अदालत ने नुपुर शर्मा से पूरे देश से सार्वजनिक रूप से माफी मांगने को भी कहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि आपके बयान से पूरे देश की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा हो गया है। कोर्ट ने कहा कि नूपुर ने नेशनल टीवी पर एक धर्म विशेष के खिलाफ उकसाने वाली बात कही।

सुप्रीम कोर्ट ने यह टिप्पणियां तब की है जब नूपुर शर्मा ने देश के अलग-अलग शहरों में दर्ज हुए केस को दिल्ली ट्रांसफर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी। इसी पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि उनकी टिप्पणी से देश भर में लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं। देश में आजकल जो कुछ भी हो रहा है, उसके लिए वही जिम्मेदार हैं।

कोर्ट ने साफ तौर पर कहा कि हमने भी उस डिबेट को देखा है। उन्हें भड़काने की कोशिश हुई, लेकिन उसके बाद उन्होंने जो कुछ भी कहा वो बेहद शर्मनाक है। नूपुर शर्मा की वजह से पूरे देश में लोग भड़क गए। उदयपुर में हुई घटना के लिए भी नूपुर ही जिम्मेदार हैं। नूपुर शर्मा को सार्वजनिक तौर पर माफी मांगनी चाहिए।

नूपुर शर्मा के वकील ने जब कोर्ट में कहा कि वो अपने बयान के लिए माफी मांग चुकी हैं तो इस पर कोर्ट ने कहा- जब आप किसी के खिलाफ शिकायत करती हैं, तो उस व्यक्ति को अरेस्ट कर लिया जाता है। लेकिन आपके खिलाफ कई केस दर्ज होने के बावजूद पुलिस ने आपको अब तक छुआ भी नहीं है।

केस को दिल्ली ट्रांसफर करने के लिए लगाई गई अर्जी पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा- ये याचिका आपके घमंड को दिखा रही है। आपको पहले लोअर कोर्ट में जाना चाहिए, लेकिन आप सीधे सुप्रीम कोर्ट आ गईं। क्या देशभर की दूसरी कोर्ट आपके लिए छोटी हैं।

कोर्ट ने सख्त लहजे में कहा-नूपुर को टीवी पर पूरे देश से माफी मांगनी चाहिए। इतना ही नहीं, कोर्ट ने नूपुर के खिलाफ अलग-अलग शहरों में दर्ज केस दिल्ली ट्रांसफर करने से भी मना कर दिया।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

परम्पराएं तोड़ने वाले महाराज ?@भाजपा में शामिल होने के बाद भयभीत क्यों हैं, वरिष्ठ पत्रकार राकेश अचल का विश्लेषण

🔊 Listen to this राजनीति में भय सबसे बड़ी कमजोरी भी होता है और ताकत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *