Breaking News

सोचिए जरूर :आपकी कितनी बढ़ी संपत्ति? विधायक जी तो पांच साल में ही लखपति से हो गए करोड़पति

नेताओं के घर में लगता है पैसे के पेड़ लगे हैं। अगर ऐसा नहीं होता तो केवल चार साल में करीब छह लाख की संपत्ति बढ़कर सात करोड़ से अधिक नहीं होती।

@नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (03 फरवरी, 2022)

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक 2012-13 में यूपी में प्रति व्यक्ति आय 33 हजार 137 रुपये थी। 2016-17 में बढ़कर सालाना प्रति व्यक्ति आय 43 हजार 861 रुपये हो गई। यानी पांच साल में आम आदमी की आय करीब 32 फीसद बढ़ी। यहां यह गौरतलब है कि साल 2017 के उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में कुल 80 फीसद विजेता करोड़पति थे।

संपत्ति में उछाल के मामले में अकेले राकेश कुमार ही नहीं हैं। इन्हीं के हमनाम यूपी के छर्रा के सपा विधायक की संपत्ति पांच साल में 2632 फीसद बढ़ गई। साल 2012 के चुनाव में इनकी संपत्ति थी 4.79 लाख, जो 2017 तक आते-आते 1.31 करोड़ से अधिक हो गई।

सबसे ज्यादा संपत्ति अर्जित करने के मामले में सुल्तानपुर के इसौली विधानसभा सीट से सपा विधायक अबरार अहमद भी हैं। 2012 में भी इसौली सीट से विधायक रहे और उस समय इनकी संपत्ति थी 2.90 लाख। साल 2017 में इन्होंने जब इन्होंने अपनी संपत्ति डिक्लेयर की तो 5 साल में यह बढ़कर 70.97 लाख रुपये हो गई। यानी कुल 2348 फीसद का इजाफा।

गोरखपुर जिले की खजनी सीट से बीजेपी विधायक संत प्रसाद की संपत्ति भी 2012 से 2017 के बीच 1047% बढ़ी। साल 2012 के चुनाव में जब उन्होंने इसी सीट से बीजेपी के टिकट पर ताल ठोंकी थी ते उस समय इनकी संपत्ति महज 14.18 लाख थी, जो 2017 में बढ़कर 1.62 करोड़ हो गई।

पूर्वांचल की कुशीनगर सीट से पीछली बार चुनाव में हार का मुंह देखने वाले सपा के विधायक ब्रह्माशंकर त्रिपाठी की भी संपत्ति 2012 से 2017 के बीच 803 फीस उछल कर 2.94 करोड़ से 26.63 करोड़ हो गई।

कैंपियरगंज के बीजेपी विधायक फतेहबहादुर 2012 का चुनाव जीतकर विधायक बने और साल 2017 में उन्हें बीजेपी के टिकट पर विजयश्री मिली। मायनेता के मुताबिक इन 5 सालों में इनकी संपत्ति में 138 फीसद का इजाफा हुआ। 2012 में इनकी संपत्ति 3.29 करोड़ थी, जो 2017 तक आते-आते बढ़कर 7.82 करोड़ हो गई।

Check Also

क्‍या राहुल गांधी को ब्रिटेन यात्रा के लिए मंजूरी की जरूरत थी?

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (25 मई, 2022) कांग्रेस के पूर्व …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *