Breaking News

बंदरों से परेशान एक शहर: हालत ऐसे कि घर छोड़ने पर मजबूर हुए लोग

शहर में बंदर अब लोगों की कार में घुस रहे हैं, दुकानों से सामान चुरा रहे हैं, खाने और अपने इलाके के लिए आपस में भिड़ रहे हैं। मौका पाते ही बंदर लोगों के घरों के अंदर भी घुस जा रहे हैं।

@नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (17 जनवरी, 2022)

कोरोना वायरस की तीसरी लहर ने इन दिनों पूरी दुनिया को अपने चपेट में लिया हुआ है। दिनों दिन बढ़ते आंकड़ों ने एक बार फिर से हर किसी को घरों में कैद होने पर मजबूर कर दिया है, लेकिन दुनिया में एक शहर ऐसा है जो कोरोना से ज्यादा बंदरों से परेशान है। कोरोनाकाल के दौरान थाइलैंड के एक शहर में बंदरों की आबादी इतना ज्यादा बढ़ गई है कि यहां के लोगों की स्थिति घर और शहर छोड़ने वाली हो गई है।

थाइलैंड का लॉपबुरी शहर मकाक्स प्रजाति के बंदरों का गढ़ है। लेकिन यहां कोरोना काल के दौरान हालात बेहद बदल गए हैं और यहां बंदरों की आबादी अचानक से बढ़ गई है। दुनियाभर से यहां पर्यटक घूमने आते थे, जो बंदरों को खाने-पीने की चीजें दे देते थे। अब जब से कोरोना महामारी के कारण लोगों को आना बंद हुआ है, तब से ही बंदरों ने आम नागरिकों का जीना बेहद मुश्किल कर दिया है।

नवंबर से टूरिस्ट फिर से आने लगे मगर उन्होंने देखा कि बंदरों की आबादी बहुत ज्यादा बढ़ गई है। रिपोर्ट्स की मानें तो अब बंदर लोगों के घरों में हमला कर रहे हैं और खाने की चीजें चुरा ले जा रहे हैं। यही नहीं, सड़क पर चलना-फिरना भी लोगों के लिए दूभर हो गया है। बंदरों के खौफ से अब लोग अपना घर भी छोड़कर भागने पर मजबूर हो रहे हैं।

बताया जा रहा है कि बंदर अब लोगों की कार में घुस जा रहे हैं, दुकानों से सामान चुरा रहे हैं, खाने और अपने इलाके के लिए आपस में भिड़ रहे हैं। अक्सर लोगों के घरों के अंदर भी घुस जा रहे हैं। इसके साथ ही बंदरों की बढ़ती तादाद के कारण इनके बीच इंसानों का खौफ भी खत्म हो गया है और ये कुछ भी कर गुजरने के लिए तैयार हो गए हैं।

Check Also

क्‍या राहुल गांधी को ब्रिटेन यात्रा के लिए मंजूरी की जरूरत थी?

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (25 मई, 2022) कांग्रेस के पूर्व …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *