किसान आंदोलन पर सुप्रीम कोर्ट की केंद्र को फटकार, मुख्य न्यायधीश बोले- आपने आंखें क्यों मूंद रखी हैं, कुछ करते क्यों नहीं?

@शब्द दूत ब्यूरो

नई दिल्ली। तबलीगी जमात मरकज़ मामले में सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने 26 जनवरी को किसान रैली का मामला उठाया है। इस केस की सुनवाई के दौरान प्रधान न्यायाधीश एस ए बोबडे ने नाराजगी जताते हुए कहा कि ‘सरकार इस मुद्दे पर आंखें मूंदे हुए क्यों है, कुछ कर क्यों नहीं रही है?’ बता दें कि गणतंत्र दिवस वाले दिन किसान आंदोलन के तहत किसानों ने ट्रैक्टर रैली निकाली थी, जो हिंसक हो गई थी और कई जगहों पर तोड़फोड़ की गई थी।

सुप्रीम कोर्ट ने तबलीगी जमात की मीडिया रिपोर्टों के खिलाफ जमीयत उलेमा ए हिंद व पीस पार्टी समेत अन्य लोगों की याचिका पर सुनवाई के दौरान 26 जनवरी की इस घटना पर भी टिप्पणी की। कोर्ट में मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि ‘कुछ समाचारों पर नियंत्रण उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि कुछ निवारक उपाय अपनाना और कानून और व्यवस्था की स्थिति की जांच करना। मैं नहीं जानता कि आप इसके लिए आंखें बंद किए क्यों हैं।’

मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि ‘फेक न्यूज कि वजह से हिंसा हो। किसी की जान जाए, यह नहीं होना चाहिए। ऐसी स्थिति नहीं पैदा होनी चाहिए किसी खबर की वजह से।’ याचिकाकर्ता ने कहा सरकार के पास ऐसे कार्यक्रम पर रोक लगाने कि शक्ति है। केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल कर कहा था कि ‘मीडिया को जमात के मुद्दे पर रिपोर्टिंग करने से नहीं रोक सकते। यह प्रेस की स्वतंत्रता का मामला है। मरकज के बारे में अधिकांश रिपोर्टें गलत नहीं थीं।

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि केबल टीवी, डीटीएच और ओटीटी पर तकनीकी पहलू क्या हैं और कैसे नियमित किया जाता है, इस पर सरकार पूरा खाका पेश करेगी। इसके लिए उन्होंने कोर्ट से समया मांगा, जिसपर मुख्य न्यायाधीश ने सरकार को तीन सप्ताह का समय दिया है कि टीवी की खबरें, कार्यक्रम को नियमित करने और तकनीक व्यवस्था क्या है, इन सब पहलुओं पर सरकार और सभी पक्षकारों को जवाब दाखिल करें।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

काशीपुर :उर्वशी बाली भी कूदी चुनाव मैदान में, पति के लिए कर रहीं चुनाव प्रचार

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (19 जनवरी 2022) काशीपुर ।जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *