काशीपुर :राज्य हित में भाजपा में टूट होना जरूरी :हरीश रावत

काशीपुर । हम चाहते हैं कि किसानों के आंदोलन का सम्मान किया जाये। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आज यहां काशीपुर में वरिष्ठ कांग्रेस नेता त्रिलोक अधिकारी के निवास पर पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि सारे राष्ट्र को किसानों के समर्थन में आना चाहिए। 

हरीश रावत ने कहा कि आंदोलन किसानों का है लेकिन कांग्रेस पूरी तरह से उनका समर्थन करती है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के किसान भी इस आंदोलन के समर्थन में हैं। और केंद्र सरकार से तीनो कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करते हैं। 

कांग्रेस में गुटबाजी को नकारते हुए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि पार्टी एकजुट है। 2022 के चुनावों में कांग्रेस पूरे बहुमत के साथ सत्ता में आयेगी। बीते रोज काशीपुर में प्रदेश प्रभारी के आगमन पर अपनी गैरमौजूदगी पर हरीश रावत बोले कि उन्हें आमंत्रित नहीं किया गया था और वैसे भी वह संगठनात्मक ढांचे को लेकर तथा प्रभारी द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम था जिसमें उनकी जरूरत भी नहीं थी। अगर पार्टी अध्यक्ष द्वारा उन्हें बुलाया जाता तो वह अवश्य आते।

हरीश रावत ने कहा उनकी सरकार में विधायक कम होने की वजह से कई विकास कार्य नहीं हो पाये। उन्होंने कहा कि वह सत्ता में रहते तो काशीपुर आज जिला होता। हरीश रावत ने दल बदल को पाप बताया लेकिन लोकतंत्र की रक्षा के लिए भाजपा में टूट होना जरूरी है। पार्टी छोड़कर भाजपा में गये विधायकों की वापसी पर हरीश रावत बोले कि राज्य हित में यह जरूरी है।

टिकट वितरण में अपनी भूमिका पर पूछे गए सवाल के जबाब में उन्होंने कहा कि जिसे टिकट मिल जायेगा। उसे ही माला पहना दी जायेगी।

पत्रकार वार्ता के दौरान वरिष्ठ कांग्रेस नेता मनोज जोशी, विनोद शर्मा वात्सल्य, आदि मौजूद थे । इससे पूर्व हरीश रावत का पद्मावती कालोनी स्थित कांग्रेस नेता त्रिलोक अधिकारी के निवास पर पहुंचने पर विमल गुड़िया, मुक्ता सिंह, इंदुमान, दीपिका आत्रेय, महानगर महिला कांग्रेस अध्यक्ष उमा वात्सल्य, अलका पाल, गीता चौहान, बार एसोसिएशन अध्यक्ष इंदर सिंह एडवोकेट, विकल्प गुड़िया, शफीक अंसारी, उमेश जोशी एडवोकेट, महेंद्र बेदी,सुरेश शर्मा जंगी, जयसिंह गौतम, आशीष अरोरा बॉबी, जितेंद्र सरस्वती माजिद खां, अब्दुल अजीज कुरैशी समेत सैकड़ों लोगों ने स्वागत किया।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

उत्तराखंड के स्थानीय उत्पादों के उत्पादकों को प्रमाण पत्र बांटे

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो 27 सितंबर 2021) देहरादून । उत्तराखण्ड सचिवालय स्थित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *