धर्मनगरी हरिद्वार में कांग्रेस ने निकाला कैंडल मार्च, अपराधियों को सरकार का संरक्षण :सुशील राठी

हरिद्वार ।  विश्व विख्यात धार्मिक नगरी में हुये जघन्य हत्याकांड से आक्रोशित किसान कांग्रेस ने आज यहां कैंडल मार्च निकाला। स्व. ऋषिता चौधरी को श्रद्धांजलि देने के लिए यह कैंडल मार्च किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुशील राठी के नेतृत्व में हरिद्वार ग्रामीण और रुड़की किसान कांग्रेस की तरफ से निकाला गया। सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने  अपराधियों को जल्द से जल्द फांसी की सजा की मांग की। 

प्रदेश अध्यक्ष  सुशील राठी ने कहा कि भाजपा सरकार में अपराधियों को संरक्षण दिया जा रहा है। जिस वजह से बेखौफ अपराधी  घर के सामने से बालिका ऋषिता चौधरी को उठाकर उसकी हत्या को अंजाम दे देते हैं। फिर पुलिस की मौजूदगी में फरार हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि जनता के आक्रोश का दबाव ना होता तो यह गिरफ्तारी अभी ना होती। सरकार अपराध रोकने में नाकाम साबित हुई है।

वहीं जिला अध्यक्ष दिनेश वालिया और सेठपाल पंवार तथा प्रदेश उपाध्यक्ष सुंदर सिंह  ने शहर में हो रहे अवैध नशे के कारोबार को बंद करने की मांग को रखते हुए कहा कि इशिता की हत्या भी नशे में होने के कारण शैतान के सिर पर सवार होने से हुई है। आज हरिद्वार में शराब चरस गांजा इत्यादि घर-घर जाकर बिक रहा है। जिसको सरकार में शामिल मंत्री और नेता आश्रय देकर और बढ़ावा दे रहे हैं। अतः जनता को सुरक्षित रखने के लिए किसान कांग्रेस घर-घर जाकर नशे के खिलाफ अलख जाएगी।  ऐसे नेताओं के खिलाफ आंदोलन करती रहेगीं।

कैंडल मार्च में श्रद्धांजलि देने के लिए प्रमुख रूप से भगवानपुर विधायक ममता राकेश पूर्व नगरपालिका चेयरमैन सतपाल ब्रह्मचारी प्रतिनिधि मेयर अशोक शर्मा महानगर कांग्रेस अध्यक्ष संजय अग्रवाल अरविंद शर्मा एडवोकेट शुभम अग्रवाल उदयवीर सिंह चौहान चौधरी संसार सिंह मनोज गोस्वामी अनुज चौधरी राव अफाक राहुल चौधरी राजवीर सिंह चौहान डॉक्टर प्रदीप शर्मा विशाल राठौर तरुण व्यास तरुण कुमार आरके वर्मा राजकुमार सैनी विजय दीवान योगेश सक्सैना श्याम सुंदर प्रधान विकास राजपूत तीरथ पाल रवि मयूर गौतम अजय दास महाराज जीत सिंह नौटियाल संजय पाल इत्यादि मौजूद रहे।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

उत्तराखंड: बर्खास्त होने के बाद रो पड़े हरक सिंह रावत, कहा- इतने बड़े फैसले से पहले कुछ नहीं बताया गया

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो (17 जनवरी, 2022) उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *