Breaking News

हल्द्वानी : सीएम त्रिवेन्द्र ने की एक अरब की योजनाओं की घोषणा, कांग्रेसियों ने दिखाये काले झंडे

हल्द्वानी /नैनीताल । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार हर घर को शुद्ध जल उपलब्ध कराने को प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री आज हल्द्वानी और नैनीताल में आयोजित कार्यक्रमों में बोल रहे थे।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि 16 जुलाई 2020 को हरेला पर्व पर पूरे प्रदेश में पौधरोपण किया जाएगा। उन्होंने हरेला पर सार्वजनिक अवकाश की घोषणा भी की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कोसी व देहरादून की रिस्पना नदी को पुनर्जीवित करने के अभियान की जानकारी दी।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री और केन्द्रीय मंत्री गजेंद्र शेखावत का नैनीताल स्थित प्रशासनिक अकादमी पहुंचने पर  सचिव मुख्यमंत्री व निदेशक एटीआई राजीव रौतेला ने केंद्रीय मंत्री और मुख्यमंत्री का स्वागत किया। जिसके बाद केंद्रीय मंत्री ने अकादमी में आयोजित राष्ट्रीय कार्यशाला का शुभारंभ किया।

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री  ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की सोच है कि देश को जल समृद्ध बनाना है। और इसके लिए हर किसी को लगना होगा। नया भारत का निर्माण तभी संभव होगा। उन्होंने कहा कि देश के हिमालयी राज्यों में जलवायु परिवर्तन का खतरा बढ़ रहा है ऐसे में जल संसाधनों को पुनर्जीवित करना बड़ी चुनौती है।  नदी, नाले, गाड़ गधेराें को पुनर्जीवित करने के लिए हर स्तर पर प्रयास करने होंगे। देश के 15 करोड़ घरों तक पेयजल पहुंचाने के लिए साढ़े तीन लाख करोड़ खर्च किया जाएगा। पांच साल के भीतर राज्यों के साथ मिलकर लक्ष्य से अधिक व समय से पहले योजना पूरी करने की नई परंपरा विकसित की जा रही है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने  हल्द्वानी के कार्यक्रम में नैनीताल जनपद के लिए एक अरब रुपये से ज्यादा की योजनाओं की घोषणा की। इस दौरान पत्रकारों से बातचीत में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कांग्रेसपपर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस लालटेन से पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को तलाश रही थी। कांग्रेस को वह मिल गए। मुख्यमंत्री ने कहा कि अंतरराज्यीय बस अड्डे का निर्माण जल्द होगा।

उन्होंने कहा कि हल्द्वानी में राज्य का पहला राजकीय इलेक्ट्रिक शवदाह गृह का निर्माण किया जाएगा। इस दौरान 50 भूमिहीन गरीबों को आवास के भूमि का पट्टे भी वितरित किये।

उधर मुख्यमंत्री के पहुंचने से  पहले कांग्रेस नेता सुमित ह्रदयेश के नेतृत्व में दर्जनों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। कार्यक्रम स्थल से कुछ दूरी पर पुलिस ने दर्जनों प्रदर्शनकारी कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। इस दौरान कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री वापस जाओ, सस्ती शराब बंद करो, युवाओं को रोजगार देने के नारे लगाए। इस दौरान उन्होंने काले झंडे भी दिखाए।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

पत्नी के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद केजरीवाल ने खुद को क्वांरटीन किया

🔊 Listen to this दिल्ली।   मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपनी पत्नी सुनीता केजरीवाल  की कोरोना रिपोर्ट …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *