Breaking News

स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार – प्रदेश में द्वितीय काशीपुर नगर निगम, मेयर की पत्रकार वार्ता में उठे सफाई अव्यवस्था के मुद्दे

 विनोद भगत 

काशीपुर । नगर निगम काशीपुर को स्वच्छ सर्वेक्षण 2018-19 के लिए प्रदेश में द्वितीय स्थान प्राप्त होने पर मेयर श्रीमती उषा चौधरी ने मुख्य नगर आयुक्त बंशीधर तिवारी के साथ एक साझा पत्रकार वार्ता अपने कार्यालय में बुलाई। पत्रकार वार्ता में मेयर ने नगर निगम काशीपुर के स्वच्छता अभियान पर सराहना करते हुए बताया कि प्रदेश में साफ-सफाई में दूसरा स्थान मिलना निगम के प्रत्येक अधिकारी और कर्मचारी का संयुक्त प्रयास है।

बता दें कि बीते रोज देहरादून में काशीपुर नगर निगम को 15 लाख का पुरस्कार मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा प्रदान किया गया था। जहाँ मेयर और मुख्य नगर आयुक्त ने यह पुरस्कार लिया। 

मेयर श्रीमती उषा चौधरी नगर निगम की स्वच्छता की सराहना कर रही थी कि बीच में पत्रकारों ने नगर की सफाई पर प्रश्न चिन्ह खड़े करने शुरू कर दिए। पत्रकारों ने पूछा कि शहर की सफाई व्यवस्था का हाल किसी से छिपा नहीं है। यह अच्छी बात है कि नगर को स्वच्छता के लिए सम्मानित किया गया है। लेकिन वास्तव में नगर में सफाई व्यवस्था का हाल बुरा है। एक वरिष्ठ पत्रकार ने तो सफाई व्यवस्था को लेकर यहाँ तक पूछा कि आखिर शहर की बिगड़ी सफाई व्यवस्था के बावजूद आखिर निगम को यह पुरस्कार कैसे मिल गया? इसपर मेयर श्रीमती उषा चौधरी ने मुख्य नगर आयुक्त बंशीधर तिवारी से पुरस्कार की बाबत स्थिति स्पष्ट करने को कहा जिसपर श्री तिवारी ने बताया कि कि भारत सरकार की एक संस्था यह पुरस्कार देती है। और इसके लिए नगर के विभिन्न वार्डो में फोन कर सफाई व्यवस्था की जानकारी के आधार पर यह पुरस्कार देने का निर्णय लिया जाता है।

मेयर ने जानकारी दी कि सफाई व्यवस्था को सुचारू रूप देने के लिए मुख्य नगर आयुक्त की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित की जायेगी जो निगम की सीमा में प्रत्येक वार्ड का सर्वे करेगी। जिस पार्षद के वार्ड में अच्छा काम होगा वहां प्रथम को 10 लाख द्वितीय को 5 लाख तथा तृतीय को 2.50 रूपये के अतिरिक्त विकास कार्य हेतु धनराशि दी जायेगी। 

मेयर श्रीमती उषा चौधरी ने पत्रकारों को बताया कि निगम शहर की सड़कों की व्यवस्था सुधारने के लिए 40 वार्डों में 16 करोड़ के टेंडर निकाल चुका है जिनका कार्य प्रगति पर है। वहीं सर्वाधिक महत्वपूर्ण लक्ष्मीपुर माइनर को कवर करने के लिए निगम द्वारा पूर्व में भेजे गये 28 करोड़ के प्रस्ताव के संबंध शहरी विकास विभाग द्वारा लगाई गई आपत्ति को पुनः यहाँ से सही कर भेजा जा रहा है। मेयर ने बताया कि लक्ष्मीपुर माइनर को कवर करने के लिए जल्द ही निगम को धनराशि प्राप्त होने की आशा है। 

मेयर श्रीमती उषा चौधरी ने नगर की सफाई अव्यवस्था तथा अन्य कमियों की ओर ध्यान आकर्षित कराने के लिए लिये आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह अच्छी बात है कि उन्हें कमियां बताई गई और वह उन कमियों को दूर करने का प्रयास करेंगी।

 

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

काशीपुर :ईंट पत्थरों से कुचल कर अधेड़ की निर्मम हत्या, पूछताछ के लिए दो हिरासत में

🔊 Listen to this काशीपुर।   कुंडा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम टीला में एक अधेड़ …