Breaking News

सिपाही बोला कप्तान से पैसे तो देने पड़ेंगे रिश्वत के

 फैसल खान 

गाजियाबाद। हैलो! मैं एसएसपी बोल रहा हूं। पैसे किस बात के मांग रहे हो। यह सुनने के बाद भी सिपाही पैसे वसूलने की जिद पर अड़ा रहा। सिपाही बोला, पैसे तो देने ही पड़ेंगे। सिपाही की बदजुबानी सुन एसएसपी भी दंग रहे गए। उन्होंने सिपाही को तत्काल लाइन हाजिर करने के आदेश वायरलैस सेट पर दे दिए। सिपाही के साथ शामिल दूसरे पुलिसकर्मी को भी लाइन में आमद कराने के निर्देश दिए। एसएसपी और सिपाही के बीच हुई बातचीत की ऑडियो देर रात सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।
सिहानी गेट थाना क्षेत्र में बृहस्पतिवार को दो पक्षों के बीच विवाद हो गया था। मामले के निस्तारण का जिम्मा सिपाही दीपांशु मलिक व प्रमोद को दिया गया था। बताया जा रहा है कि सिपाहियों ने मामले को निपटाने के लिए एक पक्ष के युवक से रिश्वत की मांग शुरू कर दी। पीड़ित पक्ष ने इंकार किया तो सिपाही दीपांशु मलिक ने अभद्रता की।

अभी आ, कप्तान बुला रहे हैं
रिश्वत न मिलने पर सिपाही दीपांशु ने युवक को फोन करके तत्काल आने को कहा। युवक ने हवाला दिया कि अधिकारियों ने शुक्रवार सुबह साढ़े 9 बजे आने को कहा है। इस पर सिपाही ऐंठते हुए बोला कि कप्तान ने ही फोन करके उसे तत्काल बुलाने के लिए कहा है।
कांफ्रेंस पर ले लिए कप्तान
पीड़ित ने सिपाही से कहा कि वह अभी कप्तान से बात कर रहा है। इतना कहकर उसने कप्तान को कांफ्रेंस पर ले लिया। कप्तान के फोन उठाते ही पीड़ित ने कहा कि उनके नाम पर चौकी से फोन आया है और अभी आने को कह रहे हैं। यह कहकर युवक ने कप्तान से कहा कि सिपाही दीपांशु मलिक लाइन पर हैं, उनसे बात कर लो।

कांफ्रेंस में पीड़ित ने कहा कि दो सिपाही थे। प्रमोद व दीपांशु मलिक। दीपांशु ने गाजियाबाद में दिखने पर जूते से पीटने की धमकी दी थी। इस पर कप्तान ने सिपाहियों की तैनाती का थाना पूछा। पीड़ित द्वारा सिहानी गेट बताने के बाद कप्तान ने वायरलैस सेट पर ही दोनों सिपाहियों को तत्काल लाइन में आमद कराने के आदेश दे दिए।सिपाहियों पर कार्रवाई की बात सुनकर पीड़ित ने दोनों सिपाही की करतूत कप्तान से बताई। इस पर कप्तान ने पीड़ित को लिखित शिकायत लेकर शुक्रवार सुबह साढ़े बजे अपने दफ्तर में आने की बात कही।कप्तान ने वायरलैस सेट पर आदेश दिए कि दोनों सिपाहियों को तत्काल लाइन हाजिर किया जाता है। इंस्पेक्टर सिहानी गेट दोनों सिपाहियों केले जाकर लाइन में आमद सुनिश्चित करेंगे। साथ ही दोनों सिपाहियों को शुक्रवार को अपने सामने पेश होने का आदेश दिया।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

क्‍या राहुल गांधी को ब्रिटेन यात्रा के लिए मंजूरी की जरूरत थी?

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (25 मई, 2022) कांग्रेस के पूर्व …