सनसनीखेज आरोप :जसपुर के भाजपा नेता ने कहा कोविड-19 में भारी घोटाला, देखिए वीडियो में क्या कहा?

जसपुर । मैं कोरोना पॉजिटिव नहीं था। मुझे फर्जी पॉजिटिव दिखा दिया गया। कोरोना के नाम पर पीएम केयर्स फंड की रकम का दुरुपयोग हो रहा है। 

ये आरोप किसी विपक्ष के नेता ने नहीं भारतीय जनता पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने लगाये हैं। कोरोना पॉजिटिव होने के बाद लौटे यहाँ के वरिष्ठ भाजपा नेता अजय अग्रवाल ने इतने सनसनीखेज आरोप लगाते हुए शासन प्रशासन यहाँ तक कि सूबे की सरकार को भी आरोपों के घेरे में खड़ा कर दिया है। 

भाजपा नेता के इन आरोपों से पूरे जिले में खलबली मच गई है। भाजपा नेता अजय अग्रवाल ने बताया कि कोरोना के नाम बड़े पैमाने पर पर घोटाला किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उन्हें रूद्रपुर के जिंजर होटल में रखा गया जहाँ खाना देने के नाम पर कोरोना मरीजों के साथ अन्यायपूर्ण व्यवहार किया जा रहा है। थर्मोकोल के बर्तनों में कमरे के बाहर ही खाना रख दिया जाता है। कमरों की साफ-सफाई खुद मरीजों को ही करनी पड़ती है। सफाई कर्मी पीपीई किट पहने होने के बावजूद कमरे के भीतर नहीं आते।

अजय अग्रवाल ने कहा कि कोविड-19 के मरीज़ों के नाम पर अधिकारी घोटाले कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पीएम केयर्स फंड से कोविड-19 के मरीज़ों के लिए जो रकम आती है उसमें भारी गोलमाल किया जा रहा है। उनके मुताबिक उन्हें नौ दिन में कोविड-19 उपचार सेंटर से रिलीव किया गया लेकिन उनसे कहा गया कि 14 दिन पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा गया।

अजय अग्रवाल ने सार्वजनिक रूप से यह बताते हुए कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक इस घोटाले को पहुंचाएंगे। जब उनसे पूछा गया कि आप सरकार के खिलाफ हैं तो उन्होंने कहा कि वह अन्याय के खिलाफ हैं।

 जिला कोरोना नोडल अधिकारी बंशीधर तिवारी ने बताया कि  टेस्ट में कोरोना पॉजिटिव आने पर ही मरीज को उपचार के लिए कोविड-19 सेंटर भेजा जाता है। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि कोविड-19 सेंटर में भर्ती प्रत्येक कोविड-19 मरीज का प्रतिदिन का डाटा फीड किया जाता है और उसे भारत सरकार के पोर्टल पर अपडेट किया जाता है। मरीज कितने दिन सेंटर में उपचार के लिए रहा और कब उसे डिस्चार्ज किया गया यह सब रिकार्ड में रहता है। ऐसे में यह संभव नहीं कि किसी मरीज को कम दिन भर्ती होने के बाद अधिक दिन दिखा देना संभव नहीं है।

बहरहाल भाजपा नेता के इन सनसनीखेज आरोपों से सरकार और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। 

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

उत्तराखंड: विधायक ने विधानसभा अध्यक्ष को सौंपा अपना इस्तीफ़ा

🔊 Listen to this   @शब्द दूत ब्यूरो (27 सितंबर, 2021) पुरोला से कांग्रेस के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *