शहला राशिद की गिरफ़्तारी पर 5 नवंबर तक रोक

-शब्ददूत ब्यूरो

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने जेएनयू की पूर्व उपाध्यक्ष शहला राशिद को देशद्रोह मामले में राहत देते हुए उनकी गिरफ्तारी पर 5 नवंबर तक अंतरिम रोक लगा दी है। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में अपना जवाब दाखिल करने के लिए 6 हफ्ते का वक्त मांगा है। इस मामले में अगली सुनवाई 5 नवंबर को होगी। सुप्रीम कोर्ट के वकील अलख आलोक श्रीवास्तव की शिकायत पर दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शहला राशिद के खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज किया था।

इस मामले में सुनवाई करते हुए अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश पवन कुमार जैन ने शहला को कहा है कि वह दिल्ली पुलिस की जांच में सहयोग करें।

दरअसल शहला राशिद ने कश्मीर के मौजूदा हालात को लेकर 10 ट्वीट किए थे। इन ट्वीट्स में दावा किया गया था कि वहां हालात बेहद खराब हैं और भारतीय सेना पर भी कथित तौर पर सवाल उठाए थे। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने वकील अलख आलोक श्रीवास्तव ने शहला राशिद के खिलाफ दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। इसी आधार पर तीन सितंबर को दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने आईपीसी की धारा 124A/153A/153/504/505 के तहत मामला दर्ज किया था।

सुनवाई के दौरान शहला की ओर से पेश वरिष्ठ वकील सतीश टम्टा ने कोर्ट को बताया कि अभी तक इस केस में पुलिस ने आरोपी को नोटिस तक नहीं भेजा है, इसलिए उन्हें गिरफ्तारी से सरंक्षण दिया जाए। वो इस जांच में सहयोग करने को भी तैयार हैं।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

असम: बीजेपी ने तय किए प्रत्‍याशियों के नाम, माजुली से लड़ेंगे मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो असम में विधानसभा चुनाव के लिए …