ये खबर नहीं चेतावनी है , लापरवाही का अंजाम एक दंपत्ति की मौत

ये महज दुर्घटना की खबर नहीं है वरन इंसान की लापरवाही का दुष्परिणाम है . आमतौर पर सड़क पर चलते समय हम कई बातों को नजरअंदाज कर देते हैं यह समझ कर कि यह तो मामूली बात है .लेकिन हाईवे पर हमारी और प्रशासन कि लापरवाही के चलते जब कोई हादसा हो जाता है तो वही मामूली बात भीषण दुःख का कारण बन जाती है . दिल्ली चंडीगढ़ हाईवे पर बीते रोज़ हुआ एक दर्दनाक हादसा  ऐसी लापरवाही का परिणाम है . दिल्ली-चंडीगढ़ नेशनल हाईवे पर पीवीआर के पास दर्दनाक हादसा हुआ। ट्रैक्टर-ट्राॅॅली का ढाला खुल गया, जिससे श‍टरिंग के गार्डर हाईवे पर गिरने लगे। पीछे करीब 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से आ रही इनोवा में गार्डर घुस गए। गाड़ी चला रहे लाडवा पेट्रोल पंप के मालिक गौरव गोयल (57) की गर्दन कट कर पीछे की सीट पर जा गिरी। पत्नी इंद्री बीएड कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ. रंजना गोयल (55) गंभीर रूप से घायल हो गईं। बाद में उन्‍होंने पानीपत के प्रेम अस्‍पताल में उन्‍होंने भी दम तोड़ दिया। ट्राॅॅली पर बैठा एक मजदूर भी गंभीर रूप से घायल हो गया। आरोपित चालक ट्रैक्टर-ट्राली सहित मौके से फरार हो गया। हादसे की वजह से आधा घंटा तक जाम लगा रहा। दंपति स्‍वीडन में बेटी से मिलकर लाडवा जा रहे थे।
गौरव गोयल का कुरुक्षेत्र के लाडवा में फिलिंग स्टेशन है। एक सप्ताह पहले गौरव पत्नी डॉक्‍टर रंजना के साथ स्वीडन बेटी गीतांजलि के घर गए थे। दोनों सुबह दिल्ली लौटे। इनोवा कार में सवार होकर दिल्ली से लाडवा लौट रहे थे। गाड़ी गौरव चला रहे थे। पीछे की सीट पर पत्नी बैठी थी। दिल्ली करनाल लेन पर पीवीआर से आगे शटरिंग के सामान से भरी ओवरलोड ट्रैक्टर-ट्राली चल रही थी। अचानक ट्राली का ढाला खुल गया। कई गार्डर शीशा तोड़कर इनोवा में घुस गए। गार्डर से गौरव गोयल की गर्दन कट गई। कुछ गार्डर रंजना के सिर पर लगे। ट्राॅॅली पर बैठा मजदूर अर्जुन नगर का रवि भी घायल हो गया। राहगीरों ने गाड़ी की खिड़की तोड़कर गौरव के शव को बाहर निकाला। गंभीर रूप से घायल डॉ. रंजना और मजदूर रवि को सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया। वहां से डॉ. रंजना को मेडिकल कॉलेज खानपुर रेफर कर दिया। बाद में उन्हें प्रेम अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घायल रवि को मेडिकल कॉलेज खानपुर रेफर कर दिया गया। गौरव और रंजना के शवों को सामान्य अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया गया है। थाना शहर प्रभारी जितेंद्र कुमार ने बताया कि भतीजे विपन गोयल के बयान पर अज्ञात ट्रैक्टर-ट्राली चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

अब इन कामों के लिए नहीं लगाने होंगे आरटीओ ऑफिस के चक्कर

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो ड्राइविंग लाइसेंस और इससे जुड़ी कई …