भाकियू ने बजट को किसानों से छलावा बताया

भारतीय किसान यूनियन बजट को लेकर बैठक करते

काशीपुर।भारतीय किसान यूनियन के नगर कार्यालय पर किसानों की एक बैठक बजट को लेकर हुई। बैठक में  बजट में किसानों के लिए कुछ ना होने से रोष है।भारतीय किसान यूनियन के युवा प्रदेश अध्यक्ष रविन्द्र सिंह राणा ने कहा कि सरकार ने बजट में किसानों के लिए ना तो msp खरीद पर कानून बनाने का जिक्र किया ना ही कोई योजना बताई।  जिससे किसानों की आय दोगुनी होगी,साथ ही सरकार ने फसल बीमा को लेकर जो खामियां थी। उनको दूर करने का जिक्र नही किया और ना ही बार  बार कहने के बावजूद फसल बीमा का भार किसान से हटाया।

ब्लाक अध्यक्ष टीका सिंह सैनी ने कहा कि बजट में सरकार ने किसान सम्मान निधि को ना तो बढ़ाया ओर ना ज़िक्र किया। कहीं ऐसा तो नही कि चुनाव के लिए किसानों का वोट लेने को ये किया हो,। बार बार वादे के बावजूद भी सरकार स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू नही कर रही ये किसानों का दुर्भाग्य है।

जिला महासचिव बलजिंदर संधू का कहना है कि सरकार ने धान का समर्थन मूल्य में .65 पैसे प्रति किलो बढ़ाया।    दूसरे रास्ते से डीजल पर 250 पैसे प्रति लीटर किसानों से वसूल लिया,क्योंकि प्रति एकड़ 40 से 50 लीटर डीजल किसान की खपत है,सरकार ने सूखे और बाढ़ से निबटने की कोई योजना बजट में नही बनाई।

जिला उपाध्यक्ष कल्याण सिंह का कहना है कि msp के हिसाब से जो कीमत आज धान की बनती है इस पर किसान को कोई लाभ नही है सरकार को c2 पर 50% बढ़ोतरी करनी चाहिए थी जो कि आज धन की कीमत 2680 रुपये होती।
लवदीप सिंह राणा ने कहा कि सरकार को युवाओं के लिए कृषि नीति में कुछ खास प्रावधान करने चाहिए थे जिससे युवा खेती की ओर आकर्षित हो जिससे बेरोजगारी कम करने में सरकार को फायदा होता।
बैठक में प्रीतम सिंह,रविन्द्र सिंह,जोगेंद्र,राजकुमार,सोमपाल आदि किसान उपस्थित थे।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

ह्रदयविदारक :महिला सिपाही के पति ने मकान मालिक के परिवार को जलाया, दो मासूम भाई बहन की मौत, दंपत्ति की हालत गंभीर

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो कानपुर देहात। एक महिला सिपाही के पति ने …