Breaking News

ब्रेकिंग :ऊधमसिंह नगर में 10 करोड़ की जीएसटी चोरी पकड़ी, राज्य कर विभाग ने कई कंपनियों पर मारे छापे

रुद्रपुर ।जिले में आज एसटीएफ की छापेमारी में 10 करोड़ की जीएसटी चोरी पकड़ी गयी। जनपद के प्रतिष्ठित कंपनियों में इतनी बड़ी टैक्स चोरी से अफसर सन्न रह गए। जिन कंपनियों में छापे पड़े उनके कर्मचारियों में हड़कंप मच गया।  एसटीएफ टीम ने कागजों और दस्तावेजों की गहनता से जांच की तो इतना बड़ा मामला पकड़ा गया।

राज्य कर विभाग की स्पेशल टास्क फोर्स सिडकुल की पारले बिस्कुट फैक्ट्री, नेस्ले फैक्ट्री, ब्रिटानिया फैक्ट्री व रामपुर-नैनीताल हाइवे स्थित बिग बाजार में पशु विभाग व खाद्य विभाग के साथ छापे मारे। एसटीएफ ने तीन कंपनियों व बिग बाजार में एक साथ छापे मारे। जांच में करीब सौ करोड़ के टर्नओवर पर जीएसटी छिपाने का मामला पकड़ा गया। इस पर 10 करोड़ का जीएसटी का सरकार को नुकसान हुआ।  इस दौरान अफसरों ने खरीद-फरोख्त से जुड़े दस्तावेजों की जांच की तो करीब सौ करोड़ टर्नओवर पर जीएसटी छुपाने का मामला सामने आया। इन पर करीब 10 करोड़ टैक्स बनता है। इससे अफसर हैरत में पड़ गए। कंपनियों के अफसरों व कर्मचारियों मेें खलबली मची रही। क्रय-विक्रय माल ऑनलाइन होता है। जीएसटी एक जुलाई 2017 से लागू हुआ। माल के आधार पांच, आठ, 12 व 18 फीसद स्लैब पर जीएसटी लगता है  । गहन जांच के दौरान  क्रय विक्रय से जुड़े दस्तावेजों व कंप्यूटर जांचें तो  व्यापारियों द्वारा  छह माह से अधिक समय से कम दर की वस्तुओं को कम कर दर पर बेचकर जीएसटी न देना पाया गया।जिन वस्तुओं पर कर होना चाहिए उन्हें   करमुक्त दिखाकर टैक्स बचाने व माल बनाने के क्रम में निकले फूड वेस्ट को पशु चारे के रुप में कर मुक्त दिखाकर गलत टैक्स छूट लेने जैसे गतिविधियां करती पाई गई थीं। प्लास्टिक से बने नान फैब्रिक बैग पर 18 प्रतिशत जीएसटी के स्थान पर 5 प्रतिशत कर देकर सरकारी राजस्व का नुकसान करने का मामला सामने आया।एसटीएफ द्वारा मारे गये छापे की जानकारी देते हुए अपर आयुक्त  अनिल सिंह ने बताया कि  56 लोगों की 11 टीमों ने इस कार्रवाई में हिस्सा लिया।  करीब सौ करोड़ के टर्नओवर पर टैक्स चोरी पकड़ी गई है। इन पर करीब 10 करोड़ रुपये जीएसटी बनता है। उन्होंने बताया कि कि अभी दस्तावेजों की जांच की जा रही है।

विज्ञापन
Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

सम्मान :पत्रकार व साहित्यकार पंकज चतुर्वेदी की पुस्तक “क्यों डूबी पनडुब्बी” को मिलेगा हिंदी साहित्य का सूर सम्मान, उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान करेगा सम्मानित

🔊 Listen to this गाजियाबाद । प्रख्यात लेखक व साहित्यकार पंकज चतुर्वेदी की पुस्तक क्यों …