पत्थर के पानी से नार्मल डिलीवरी का नायाब नुस्खा बताया सासंद अजय भट्ट ने

संसद में चमत्कार को नमस्कार किया सांसद अजय भट्ट ने

-वेद भदोला

सासंद अजय भट्ट

नई दिल्ली। सांसद अजय भट्ट का दावा है कि अगर किसी गर्भवती महिला को डॉक्टर ने सिजेरियन डिलीवरी बतायी हो और उसे उत्तराखंड के बदरीनाथ के पास गरुड़ गंगा के पत्थर का एक कप पानी घिसकर पिला दिया जाये तो नॉर्मल डिलीवरी ही होगी।

उत्तराखण्ड की नैनीताल से सांसद अजय भट्ट संसद में भाषण देते हुए देवपुरुष से नजर आये। संसद में वो एलोपैथ को दरकिनार कर भारत में मौजूद तमाम पैथियों और चमत्कारों की पुनर्स्थापना करते हुए साबित करने की कोशिश कर रहे थे। उन्होनें कहा कि हमारे देश के चमत्कार विज्ञान से कहीं आगे हैं।

संसद में तमाम चमत्कारों पर सांसद अजय भट्ट जिस तरह भाषण दे रहे थे, उससे लग रहा था कि वे प्रधानमंत्री मोदी और निशंक से कहीं अधिक विद्वान हैं। गौरतलब है कि हमारे माननीय प्रधानमंत्री महोदय भी मानते हैं कि देश में प्लास्टिक सर्जरी पहले से मौजूद है। गणेश के सिर पर हाथी का सिर लगाना इसका सबसे बड़ा प्रमाण है। इससे पहले माननीय कैबिनेट मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी ज्योतिष विद्या को विज्ञान से आगे की चीज़ बता चुके हैं।

अजय भट्ट यहीं नहीं रुके, बल्कि किसी वैद्य का नाम लेकर बताया कि वो पत्ते चुसाकर या फिर चूरन से किसी भी तरह की खराब किडनी को ठीक कर देते हैं। उनका चूरन खाने से डायलिसिस वाला रोगी भी सामान्य हो जाता है, उसका डायलिसिस बंद हो जाता है। इसी के साथ अजय भट्ट बदरीनाथ के रास्ते में पड़ने वाली गरुड़ गंगा के महात्म्य की कथा भी साझा करना नहीं भूलते। वो बताते हैं कि अगर उसके पत्थर को घर के अंदर रखते हैं तो सांप और बिच्छू नहीं आता।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

कोरोना की दूसरी लहर में रेलवे के 2300 से ज्यादा कर्मचारियों की मौत, परिजनों ने की मुआवजे की मांग

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर …