ट्रंप ने फिर भारत पाक के बीच मध्यस्थता की पेशकश की

वेद भदोला 

नई दिल्ली। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने  एक बार फिर भारत पाक के बीच मध्यस्थता की पेशकश की है। लेकिन इस बार ट्रंप ने बड़ी चतुराई से यह पेशकश दोहराई है।

वाशिंगटन में ट्रंप ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच दो सप्ताह पहले जिस तरह की कटुता देखने को मिली थी उसमें अब कमी आई है। और   इस बयान में ट्रंप ने आगे यह भी जोड़ दिया कि वह मध्यस्थता को तैयार हैं। यदि भारत और पाक इसके लिए राजी हों। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जी-7 सम्मेलन में हुई मुलाकात के बाद पहली बार ट्रंप की इस तरह की प्रतिक्रिया सामने आई है। दोनों नेताओं के बीच फ्रांस के बिआरित्ज शहर में मुलाकात हुई थी। 

राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि कश्मीर के मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच विवाद में  पिछले 15 दिनों के मुकाबले  कमी आई है। व्हाइट हाउस में बीते रोज  ट्रंप ने  पत्रकारों से कहा, “मुझे लगता है कि दो सप्ताह पहले दोनों देशों के बीच जैसी हालत थी अब दोनों के बीच तनाव में कमी आई है।  जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाया तो पाकिस्तान बौखला गया और दोनों देशों के बीच रिश्ते बेहद तनावपूर्ण हो गए। ट्रंप ने कहा कि पाकिस्तान ने  अमेरिका से भी भारत की शिकायत कर भारतीय नेतृत्व पर दबाव बनाने की कोशिश की थी, लेकिन पाकिस्तान को कुछ हासिल नहीं हुआ।

उस समय ट्रंप ने कहा था कि कश्मीर एक ऐसा मुद्दा है जिसे भारत और पाकिस्तान को मिलकर सुलझाना चाहिए। इस मुलाकात में पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्रंप के सामने बड़ी बेबाकी से कहा था कि भारत और पाकिस्तान के बीच किसी मुद्दे पर तीसरे देश के हस्तक्षेप की आवश्यकता नहीं है, वे ऐसा करने के लिए किसी देश को कष्ट नहीं देना चाहते हैं।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

बिल नहीं चुकाया तो ऑपरेशन के बाद बिना टांके लगाए खुला छोड़ा पेट, मासूम की मौत

🔊 Listen to this @शब्द दूत ब्यूरो उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में एक निजी अस्पताल …