झांसी में नशेड़ी सिपाही ने मंदिर में तोड़फोड़ की, प्रशासन व नेताओं की सूझबूझ से बड़ी घटना टली

 

मंदिर जिसमें तोड फोड़ की गयी

मुकेश वर्मा
  झांसी। बामौर चौकी के दीवान द्वारा नशे की हालत में शिव मन्दिर में तोड़ फोड़ करने एवं अश्लील गालियाँ देने से यहाँ अधिकारियों तथा बुद्धिजीवियों के हस्तक्षेप से एक बड़ी घटना होते होते बच गयी ।

विज्ञापन

 

थाना एरच अन्तर्गत बामौर चौकी में पदस्थ हैड कॉन्स्टेबल  सतपाल यादव ने सुबह करीब सात बजे चौकी के बाहर बने शिव मन्दिर पर जाकर तोड़ फोड़ कर दी।  जिससे शिव भक्त इकट्ठे हो गये ।जब बिरोध किया गया तो उसने कहा यहाँ योगी के शिव नहीं हमारे हमारे सुदर्शन चक्रधारी कृष्ण होने चाहिए। यही नहीं उसने ग्रामीण भक्तों तथा मुख्यमंत्री योगी को अपशब्द भी कहे।  इस पर सैकड़ों की संख्या में शिव भक्त इकट्ठे हो गये और  धार्मिक उन्माद फैलने की स्थिति पैदा हो गयी।  तभी प्रदेश कार्यसमिति युवा मोर्चा उत्तर प्रदेश दीपक त्रिपाठी द्वारा झाँसी एस एस पी को प्रकरण की सूचना दी गयी। जिन्होंने तत्काल थानाध्यक्ष एरच तथा थानाध्यक्ष गुरसराय को पुलिस बल के साथ मौके पर भेजा।  जिन्होंने आरोपी दीवान सतपाल यादव को मेडीकल जांच हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बामौर भेजा।  जिसमें नशे की पुष्टि की गयी थानाध्यक्ष एरच सभाजीत मिश्रा गुरसराय थानाध्यक्ष अबध नारायण पाण्डेय एवं चौकी प्रभारी त्रिभुवन सिंह की संयुक्त सूझ बूझ से मामला शांत कराया गया।   भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य दीपक त्रिपाठी की लिखित शिकायत पर आरोपी के विरुद्ध सख्त कार्यवाही का भरोसा दिया गया ।नशेड़ी दीबान को तत्काल मौके से हिरासत में लेकर थाना एरच ले गये ।इस अवसर पर बरिष्ट साहित्यकार हरनाथ सिंह चौहान अशोक गुप्ता मानसिंह चौहान संजय गुप्ता आदि उपस्थित रहे ।

विज्ञापन
Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

गन्ना किसानों के बहाने योगी आदित्यनाथ पर भड़के अरविंद केजरीवाल

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी …