Breaking News

गैरसैंण आंदोलनकारियों पर दर्ज मुकदमे वापस लेने की मांग

रामनगर से नितेश जोशी
गैरसैंण को स्थायी राजधानी बनाने की मांग को लेकर आन्दोलन कर रहे आन्दोलनकारियों पर दर्ज मुकदमे वापस लेने तथा खानपुर भाजपा विधायक कुंवर प्रणब सिंह चैम्पियन को अयोग्य घोषित करते हुये विधायक पद से बर्खास्त करने की मांग को लेकर राज्य आन्दोलनकारी संगठन तथा जनपक्षीय संगठनों के कार्यकर्ताओं ने तहसील कार्यालय पर धरना-प्रदर्शन किया।  अपनी मांगों से सम्बन्धित ज्ञापन महामहिम राष्ट्रपति , प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री तथा उत्तराखण्ड़ विधानसभा अध्यक्ष को तहसीलदार रामनगर पूनम पन्त के माध्यम से भेजा।

उत्तराखण्ड़ राज्य आन्दोलनकारी संगठन के बैनर तले प्रातः 10 बजे से ही आन्दोलनकारी तहसील कार्यालय में प्रदर्शन करते हुये धरने व उपवास पर बैठ गये तथा नारेबाजी करने लगे।धरना  स्थल पर ललित उप्रेती के संचालन व मनमोहन अग्रवाल की अध्यक्षता में हुयी सभा में वक्ताओं ने कहा कि शहीदों की शहादत से बना उत्तराखण्ड़ का अपना बर्दाश्त नहीं किया जायेगा।उन्होनें खानपुर विधायक द्वारा मर्यादित शब्दों का प्रयोग करने को सम्पूर्ण प्रदेशवासियों का अपमान बताया। आन्दोलनकारियों  में इस बात को लेकर भी रोष था कि गैरसैंण में विधानसभा भवन, सचिवालय भवन तथा विधानसभा सत्र आयोजित करने के बाद भी कांग्रेस-भाजपा सरकार गैरसैंण को स्थायी राजधानी क्यों नहीं घोषित कर रही है। धरने -प्रदर्शन पर बैठे आन्दोलनकारियों ने सरकार को चेतावनी दी कि यदि खानपुर विधायक को विधायक से अयोग्य घोषित नहीं किया गया तथा गैरसैंण को राजधानी घोषित तथा आन्दोलनकारियों पर दर्ज मुकदमें वापस नहीं लिये गये तो राज्यव्यापी आन्दोलन करने को बाध्य होगें।
इस अवसर पर इन्द्र सिंह मनराल ,प्रभात ध्यानी,नरेन्द्र पाठक, मनोहर सिंह मनराल,हाफिज सईद अहमद, पंकज, फजल खान,एम आर टम्टा,नईम अहमद चैधरी,हीरा सिंह रावत, कौशल्या, मौ अयूब, किशन शर्मा, नवीन नैथानी, रईस अहमद, ललित उप्रेती, मनमोहन अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

गड़बडझाला :कोतवाली में पांच सालों से जीजा की जगह पुलिस की नौकरी कर रहा था साला

🔊 Listen to this ठाकुरद्वारा । जीजा की जगह साला पिछले पांच सालों से पुलिस …