Breaking News

केलाखेड़ा में भारी मात्रा में अवैध खनन का स्टाक पकड़ा

देर सांय पुलिस ने मारा छापा
थाना प्रभारी की नजर से नही बच पाये खनन माफिया
तहसीलदार ने करवाई नपाई

राहुल सक्सैना 

       केलाखेडा नगर व आस-पास के ग्रामीण क्षेत्र में अवैध खनन प्रगति पर है। केलाखेडा व ग्रामीण क्षेत्र में गैनी,बोर व गडरी नदी खनन का प्रयाय बन चुकी है। रात्रि ढलते ही खनन माफिया अवैध खनन का कारोबार शुरू कर देते है तथा रात्रि में ही खनन सामग्री वाहनों में भरकर अन्यंत्र गन्तव्यों को रवाना हां जाती है। खनन माफिया इतनी सर्तकता से काम करते है की दिन का सूरज निकलने से पहले ही खनन से संबधित समस्त कार्य निबटा दिये जाते है। कुछ खनन माफियाओं ने तो अपनी जगहों में बाउड्री कर गेट लगवा दिये है तथा उसी के अन्दर नजर बचा कर वाहन में खनन सामग्री भरी जाती है। जिससे कि स्थानीय लोगो व उच्चाधिकारीयों की नजरों से बचा जा सके। 

सोमवार की देर सांय थाना प्रभारी केलाखेडा ओमप्रकाश को जानकारी मिली की केलाखेडा के गैनी नदी के किनारे बाउड्री के अन्दर अवैध खनन का स्टाक पडा है, जिस पर थाना प्रभारी हरकत मे आये और अपने दल बल के साथ छापे मारी की तो बडी मात्रा में अवैध खनन का स्टाक पडा मिला जिसकी जानकारी थाना प्रभारी ओमप्रकाश ने उच्चाधिकारियों को दी। इस पर तहसीलदार बाजपुर के साथ चकबन्दी विभाग व राजस्व विभाग के कर्मचारी मौके पर आये और बाउड्री के अन्दर अवैध खनन के स्टाक की नापई करने के साथ नदी किनारे जहा से खनन किया जाता है की भी नपाई की।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

सम्मान :पत्रकार व साहित्यकार पंकज चतुर्वेदी की पुस्तक “क्यों डूबी पनडुब्बी” को मिलेगा हिंदी साहित्य का सूर सम्मान, उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान करेगा सम्मानित

🔊 Listen to this गाजियाबाद । प्रख्यात लेखक व साहित्यकार पंकज चतुर्वेदी की पुस्तक क्यों …