Breaking News

काशीपुर :हादसे के इंतजार में विद्युत विभाग , मौत के साये में जीते उपभोक्ता

नवल सारस्वत

काशीपुर । जुर्माना सिर्फ जनता के लिए, सख्त कानून सिर्फ जनता के लिए। लेकिन उपभोक्ताओं की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे बिजली विभाग के लिए खुद कोई नियम कानून लागू नहीं होते। हां कोई हादसा होने की दशा में मुआवजा जरुर सरकार या विभाग देकर अपनी जिम्मेदारी निभा देता है। काशीपुर के मौहल्ला अल्लीखां में बीते रोज विजिलेंस की छापेमारी के दौरान यह तो देखा गया कि बिजली चोरी कौन कर रहा है पर क्या विभाग अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रहा है? इस बात को अधिकारियों ने नजर अंदाज कर दिया। हालांकि ये देखना स्थानीय अधिकारियों का काम है। 

मौ अल्लीखां में बिजली के तारों का गुच्छा एक लकड़ी के खम्भे पर और मकानों की छत पर खतरनाक तरीके से देखकर आपकी रुह कांप जायेगी। बरसात में तो यह और भी खतरनाक होता है। स्थानीय निवासियों ने बताया कि कई बार बिजली विभाग व उसके कर्मचारियों को इस बारे में अवगत कराने के बावजूद कोई सुनवाई नहीं की गई। मजबूरन यहां रहने वाले दर्जन भर परिवार मौत के साये में जी रहे हैं। 

सबसे ज्यादा खतरा छोटे छोटे बच्चों को है। वह यहाँ खेलते और आते जाते रहते हैं जिससे हर वक्त डर लगा रहता है कि कब कोई दुर्घटना हो जाये। निवासियों ने बताया कि बरसात में मकानों में करंट दौड़ने लगता है जिससे कभी भी कोई अनहोनी घटना हो सकती है। लेकिन बिजली विभाग सिर्फ जुर्माने पर जोर दे रहा है। हादसे के बाद मुआवजा देने का प्रावधान तो है ही

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष: बस स्टॉप पर जैसे ही पहुंची तेजाब से चेहरा झुलसा दिया, पीड़ाभरी दर्दनाक दास्तान, पर हौसला आज भी आसमान छूने का,

🔊 Listen to this पहाड़ जैसे हौसले से बड़ी पहाड़ी गांव की बेटी एसिड अटैक …