Breaking News

काशीपुर – स्वच्छता अभियान पुरस्कार और कूड़े के ढेर की हकीकत

उदय राज हिंदू इंटर कालेज मैदान में लगा कूड़े का ढेर

   

वार्ड 37 की पार्षद वैशाली गुप्ता 

काशीपुर । राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर नगर में स्वच्छता में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए पुरस्कार प्रदान किये जायेंगे। नगर निगम के साफ सुथरे एयरकंडीशन्ड हाल में ये कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। पुरस्कार समारोह से एक दिन पहले शब्द दूत ने शहर के कुछ स्थानों पर स्वच्छता का जायजा लिया। नगर के प्रख्यात उदय राज हिंदू इंटर कॉलेज मैदान जहाँ रोज सुबह शाम सैकड़ों लोग भ्रमण करने और कुछ योग करने आते हैं। वहाँ मैदान में गंदगी का नजारा बड़ा ही भयावह है। खेल मैदान को टचिंग ग्राउंड बना दिया गया है।

कूड़े के बीच बच्चे खेल रहे क्रिकेट मैच

मैदान में चारों ओर कूड़े का ढेर स्वच्छता अभियान की हकीकत खोल रहा था। सबसे बड़ी बिडम्बना तो यह थी कि कूड़े के ढेर में ही बच्चों का क्रिकेट मैच चल रहा था।  हालांकि ये मैदान एक निजी संस्था का है पर विद्यालय प्रबंधन कमेटी का कहना है कि मैदान में असामाजिक तत्वों का जमावड़ा लगा रहता है और आसपास के तमाम लोग कूड़ा मैदान में ही डाल देते हैं। स्थानीय प्रशासन को कमेटी की ओर से कई बार इस संबंध में लिखा गया है पर प्रशासन की ओर से कोई तवज्जो नहीं दी जाती है।  जिस वजह से यहाँ स्थिति खराब है। मैदान में नशेड़ियों का भी जमावड़ा रहता है। 

सीतापुर नेत्र चिकित्सालय भी बना टचिंग ग्राउंड

उधर पोस्टमार्टम हाउस के पास एक और टचिंग ग्राउंड बना हुआ है सीतापुर आई हास्पिटल जिसमें कूड़े का ढेर लगा हुआ है। आसपास के दुकानदारों ने बताया कि पहली गलती तो लोगों की है जो कूड़ा यहाँ डालते हैं। इसके बावजूद नगर निगम के अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं करते। नियम है कि खाली प्लाट पर कूड़ा इकट्ठा होने पर प्लॉट स्वामी के विरूद्ध कार्रवाई की जाये पर वह नियम कहने भर को है। यहाँ यह भी बताना अनिवार्य है कि सारी जिम्मेदारी नगर निगम की ही नहीं है आम जनता को भी जागरूक होना होगा। पर सख्ती तो निगम को ही करना होगा। 

काशीपुर में स्वच्छता अभियान का एक और नजारा

वार्ड नंबर 37 में नागनाथ मंदिर के पास निगम ने कूड़ेदान तो रखा है पर उसकी हालत खुद कूड़े से बदतर हो गई है। पार्षद श्रीमती वैशाली गुप्ता कहती हैं कि कूड़ा सड़क पर बिखरा है पर दोपहर तक निगम की गाड़ी ने कूड़ा नहीं उठाया। पार्षद श्रीमती गुप्ता कहती हैं कि एक तरफ तो स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है जबकि दूसरी तरफ हकीकत कुछ और है।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

क्‍या राहुल गांधी को ब्रिटेन यात्रा के लिए मंजूरी की जरूरत थी?

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (25 मई, 2022) कांग्रेस के पूर्व …